साझा करें
 
Comments
कांग्रेस चाहती है कि टुकड़े-टुकड़े गैंग को, भारत को गाली देने वालों को, तिरंगे का अपमान करने वालों, नक्सलवादियों के समर्थकों को खुली छूट मिले: प्रधानमंत्री मोदी
मोदी की बोटी-बोटी करने वालों की घोषणा करने को कांग्रेस ने हमेशा आगे बढ़ाया है, चुनाव में टिकट देकर उनका मनोबल भी बढ़ाया है क्योंकि वो मोदी की बोटी-बोटी करना चाहते हैं: पीएम मोदी
कांग्रेस को न तो जवानो के सम्मान की फिक्र कभी रही है और न ही किसानो के सम्मान की, हरियाणा और दिल्ली में जब कांग्रेस की सरकार थी, तब कैसे कौड़ियो के भाव पर किसानो की जमीन हथियाने का खेल खेला गया, आप सभी जानते हैं: प्रधानमंत्री

भारत माता की जय
भारत माता की जय

मंच पर विराजमान हरियाणा के लोकप्रिय और यशस्वी मुख्यमंत्री श्रीमान मनोहर लाल जी, मंच पर उपस्थित सभी वरिष्ठ नेतागण, इस चुनाव में भारतीय जनता पार्टी के तीनों प्रत्याशी और विशाल संख्या में पधारे हुए मेरे प्यारे भाइयो और बहनो।

न्याय और ज्ञान की धरती पर कुरुक्षेत्र के अलावा करनाल और अंबाला से पधारे सभी साथियों का बहुत-बहुत अभिनंदन। आपकी यही ऊर्जा, यही आशा, आकांक्षा ही मुझे दिन-रात मेहनत करने के लिए प्रेरित करती है।

साथियो, भगवद्गीता में भगवान कृष्ण ने कहा है की, नियतं कुरु कर्म त्वं, कर्म ज्यायो ह्यकर्मणः। यानी व्यक्ति को अपना कर्म करते रहना चाहिए, क्योंकि कुछ ना करने से कुछ करना हमेशा श्रेष्ठ होता है। यही प्रयास आपके इस सबसे बड़े सेवक का, इस कामगार का हमेशा रहा है। मैं 130 करोड़ सपनों के लिए अपने जीवन को समर्पित कर देश को आगे बढ़ाने का प्रयास कर रहा हूं। इसीलिए फिर से एक बार, फिर से एक बार आपका आशीर्वाद लेने आया हूं। भाइयो और बहनो, बीते 5 वर्षों में गांव की सड़क से लेकर सैटेलाइट तक, हाईवे से लेकर आई-वे तक इनफार्मेशन वे तक, मोबाइल से लेकर मिसाइल तक, शौचालय से लेकर कार्यालय तक, सफाई से लेकर दवाई तक, सिपाही से लेकर, सिंचाई से लेकर EMI तक, सामान्य मानवी के जीवन को आसान बनाने के लिए हर स्तर पर प्रयास हुआ है। पहले के मुकाबले दो गुनी गति से काम हुआ है। जैसे मनोहर लाल जी ने बताया हरियाणा आना मतलब मेरे लिए अपने घर आने वाली बात है। कभी यहां स्कूटर पर दौरा करता रहता था, कभी झोला लेकर के कभी बस से उतर कर के पैदल चला आता था। यहां की हर गली मोहल्ले से वाकिफ रहा हूं। मैं जब हरियाणा आया हूं तो आपसे पूछना चाहता हूं, आप बताएंगे, पूरी ताकत से जवाब देंगे? ऐसे ढीला-ढीला बोल रहे हो यार। गर्मी बहुत लग रही है क्या? मैंने सारे काम अभी गिनाए, आप मुझे बताइए सब कुछ किसने किया? किसने किया? मैं हरियाणा से हूं एक प्रकार से लेकिन आपका जवाब गलत है। आप बुरा मान गए, आप कह रहे हैं मोदी, मोदी, मोदी। मैं कह रहा हूं आपका जवाब गलत है, सही जवाब बता दूं, बता दूं? ये मोदी ने नहीं ये आपके एक वोट ने किया है।

साथियो, 2014 में आपके एक वोट ने देश के लोगों तक जरूरी सुविधाओं को पहुंचाने का काम किया। अब आपका अगला वोट 12 तारीख को चुनाव है ना, 12 तारीख को आपका कमल के फूल का आपका अगला वोट एक वैभवशाली भारत के निर्माण का रास्ता मजबूत करेगा।

साथियो, हम भारत के ज्ञान-विज्ञान और अध्यात्म की समृद्ध परंपरा को साथ लेते हुए नए भारत के निर्माण के रास्ते पर आगे बढ़ रहे हैं। योग और आयुर्वेद को लेकर देश और दुनिया में जो जागरूकता बढ़ी है, वो इसी का परिणाम है। कुरुक्षेत्र को तो अब आयुष यूनिवर्सिटी के रूप में एक नई पहचान भी मिल रही है और यहां मनोहर लाला जी की सरकार ने अंतरराष्ट्रीय गीता जयंती की महोत्सव की भी आन-बान और शान के साथ शुरुआत की है। लेकिन साथियो, जब भारत की संस्कृति की बात आती है तो न जाने क्यों कांग्रेस के मुंह पर वोट बैंक का ताला लग जाता है। ध्यान रखिएगा, इनकी मानसिकता क्या है? रामायण और महाभारत को दिन-रात गाली देने वालों के समर्थक आज भी ये महामिलवटियों के बीच में हैं। भगवान का नाम लेने पर जेल भेजने की मानसिकता, ये मानसिकता वाले लोगों के साथ ये लोग मंच पर बैठ करके हाथ पकड़ के नाचते हैं। 

साथियो, इन लोगों को पाकिस्तान की हरकतें पसंद हैं, लेकिन देश के गौरव को स्थापित करने वालों को ये दिन रात गलियां देते हैं। पाकिस्तान से तो इनको इतना लगाव है की ये भारत की कुशलता का श्रेय भी ये पाकिस्तान को देते हैं। आप याद कीजिए एयर स्ट्राइक के बाद याद है ना? याद है की नहीं है? एयर स्ट्राइक के बाद जब भारत ने आतंकियों को घर में घुसकर मारा तब हमारे एक वीर सपूत को पाकिस्तान ने कब्जे में ले लिया था। 48 घंटे के भीतर-भीतर पाकिस्तान को उसे छोड़ना पड़ा था। वाघा बॉर्डर तक छोड़ने आना पड़ा था और तब आपने उनकी मुंडी देखी होगी टीवी पर। आपको, आपको गर्व हुआ की नहीं हुआ? आपका सीना चौड़ा हुआ की नहीं हुआ, आपका माथा ऊंचा हुआ की नहीं हुआ? भारत की आन, बान और शान इसका अनुभव हुआ की नहीं हुआ? लेकिन ये कांग्रेस और उसके रागदरबारियों ने पाकिस्तानी प्रधानमंत्री के नाम के कसीदे पीटना शुरू कर दिया। यहां तक कह दिया की पाकिस्तान के प्रधानमंत्री के लिए नोबेल पुरस्कार मिलना चाहिए। भारत की कूटनीतिक सफलता से हमारा सपूत सकुशल वापस आया, लेकिन कांग्रेस और उसके राग दरबारी पाकिस्तानी सरकार का गुणगान करने लग गए।

साथियो, यही इनकी सच्चाई है, बल्कि इन्होंने तो उल्टा, भारत की संस्कृति और परंपरा को बदनाम करने का अभियान छेड़ा हुआ है।
साथियो, पानीपत के पास जब समझौता एक्सप्रेस में ब्लास्ट हुआ था? याद है आपको? याद है की भूल गए? कांग्रेस ने हिन्दू आतंकवाद का झूठ गढ़ने के लिए निर्दोष लोगों को सालों तक जेलों में बंद रखा था। लेकिन कांग्रेस के इस झूठ का, इस साजिश का पर्दाफाश हो गया।

साथियो, कांग्रेस द्वारा हमारी हजारों वर्ष पुरानी महान संस्कृति को दाग लगाने की कोशिश में असली आतंकवादियों के बचने का रास्ता खोल दिया। भारत को बदनाम करने वाली कांग्रेस को देश कभी माफ नहीं करेगा, माफ करेगा क्या, करेगा क्या?आप माफ करेंगे क्या?

साथियो, कांग्रेस सिर्फ एक ही परिवार की चिंता में डूबी रहती है, इसलिए भारत के हितों की रक्षा करने में कभी गंभीरता नहीं दिखाई गई। भारत ने भाइयो-बहनो, भारत ये अनेक नदियां, पाकिस्तान से जाकर के आगे बढ़ती हैं। वहां की जमीन को सोना बनाती हैं और ये सच्चाई है की हमारे हक का पानी पाकिस्तान की नदियों में जा रहा है। देश आजाद हुआ तब से अब तक हिंदुस्तान के किसानों के हक का पानी पाकिस्तान में जा रहा है। लेकिन हमारे हक के पानी को रोकने का काम भी ये कांग्रेस सरकार ने दशकों तक उस नदी का न भी नहीं बोले, नदी का न भी नहीं बोले। अब आपका ये चौकीदार भारत के हक का एक-एक बूंद, भारत के किसान तक पहुंचाने के लिए संकल्प लेकर के बैठा है और काम कर के रहेगा। अब एक बूंद पानी जो हिंदुस्तान के हक का है वो पाकिस्तान नहीं जाएगा दोस्तों। इसके लिए अनेक परियोजनाओं पर काम शुरू हो चुका है। आने वाले पांच वर्षों में ऐसे अनेक प्रोजेक्ट हम खड़े करेंगे। जिससे हरियाणा सहित देश के अनेक हिस्सों को पर्याप्त पानी उपलब्ध हो पाएगा।
साथियो, हरियाणा जय जवान-जय किसान का एक प्रकार से स्वर्ग है। यहां के अन्नदाता हमारे किसान, पूरे देश के लिए एक मिसाल हैं। हम कृषि व्यवस्था को कम लागत और पारदर्शी बनाने का काम कर रहे हैं। हरियाणा कि सभी मंडियों को ऑनलाइन यानी E-NAM प्लेटफॉर्म से जोड़ने का प्रयास चल रहा है। इसी तरह छोटे किसान परिवारों के बैंक खाते में सीधी मदद आनी शुरु हो चुकी है। भाइयो और बहनो, किसानों के साथ-साथ जो हमारे व्यापारी साथी हैं उनका भी ध्यान है। हमने तय किया है, पहली बार देश में एक राष्ट्रीय व्यापारी आयोग बने इतना ही नहीं। व्यापारियों, उद्यमियों के लिए 50 लाख रुपए तक के बिना गारंटी के ऋण की सुविधा भी देने वाले हैं। वहीं छोटे दुकानदारों को, छोटे किसानों को, खेत मजदूरों को, 60 वर्ष के बाद पेंशन की व्यवस्था भी हम करने वाले हैं।

भाइयो और बहनो, मैं बहुत ईमानदारी से, बहुत परिश्रम से, दिन रात एक करके आपकी सेवा में जुटा हूं। आप ही मेरा परिवार हैं, आपकी ही खुशहाली यही मेरा कर्तव्य है। लेकिन क्योंकि मैं कांग्रेस और उसके महामिलावटी साथियों को उनकी मनमानी नहीं करने देता, उनके भ्रष्टाचार को रोकता हूं, उनके वंशवाद को चुनौती देता हूं, इसलिए ये लोग बार-बार प्रेम, प्रेम, प्रेम का नकाब पहनकर मुझे गालियां देते रहते हैं। इनके प्रेम की डिक्शनरी में इस गरीब मां के बेटे के लिए इस चाय वाले के लिए किस तरह का प्यार उमड़ा है, कैसे ये प्यार जताने में एक-दूसरे से होड़ लगाते हैं। आज मैं अपने घर आया हूं हरियाणा आया हूं, कुरुक्षेत्र सत्य की भूमि है वहां आया हूं तो मैं आज कुरुक्षेत्र की इस धरती से देशवासियों को खुद बताना चाहता हूं की इनकी प्रेम की डिक्शनरी क्या है? उनकी प्रेम की डिक्शनरी में शब्द कौन से है? ये प्रेम वर्षा मोदी पर कैसे करती हैं, सुनाऊं? 

साथियो, कांग्रेस के एक नेता ने मुझे गंदी नाली का कीड़ा कहा, तो दूसरा मुझे गंगू तेली कहने आ गया। इनके एक नेता ने मुझे पागल कुत्ता कहा, तो दूसरा नेता सामने आया और मुझे भस्मासुर की उपाधि दे दी। कांग्रेस के एक और नेता है, देश के विदेश मंत्री रह चुके हैं, उन्होंने मुझे बंदर कहा। इनके और एक मंत्री ने मुझे वायरस कहा तो दूसरे ने दाऊद इब्राहिम का दर्जा दे दिया। इनके एक नेता ने मुझे हिटलर कहा तो दूसरे ने मुझे बदतमीज नालायक बेटा कहा। इतना ही नहीं, मुझे रेबीज बीमारी से पीड़ित बंदर बोला गया, चूहा बोला गया, लहू पुरुष बोला गया, असत्य का सौदागर बोला गया।

साथियो, कांग्रेस के नेताओं ने मुझे रावण, सांप, बिच्छू, गंदा आदमी, जहर बोने वाला तक बोला। कांग्रेस के नेता जिसके सामने नतमस्तक हैं, उन्होंने भी मुझे मौत का सौदागर कहा। ये इनका प्रेम करने का तरीका है, ये इनकी प्रेम की डिक्शनरी है। ये मुझ पर हो रहा प्रेम वर्षा का ये सैंपल है और भाइयो और बहनो, सुनिए जरा देश सुन रहा है सुनें।

भाइयो-बहनो, इनकी ख्वाहिश तो इनकी सोच तो मोदी की बोटी-बोटी करने की भी रही हैं। खुले आम मेरे खिलाफ मोदी की बोटी-बोटी करने वालों की घोषणा करने को कांग्रेस ने हमेशा आगे बढ़ाया है, चुनाव में टिकट देकर उनका मनोबल भी बढ़ाया है क्योंकि वो मोदी की बोटी-बोटी करना चाहते हैं। मुझे पता है की सार्वजनिक मंच से इस तरह के शब्द बोलना सही नहीं है। परिवार में भी छोटे-छोटे बच्चे आठवीं, दसवीं, बारहवीं कक्षा में जाने वाले बच्चे कॉलेज के छात्रा-छात्राएं। वो भी आज ये सब सुन रहे हैं, इस तरह की भाषा न उन बच्चों को ना सुननी चाहिए ना सीखनी चाहिए। लेकिन कांग्रेस के नामदार जिस तरह अपने प्रेम की डिक्शनरी दिखा रहे हैं और कोई ये बड़े देश की लोकतंत्र की मजा देखिए, कोई उन पर सवाल नहीं उठा रहा है, इसलिए आज मैं देश के सामने सारी सच्चाई रख रहा हूं। भाइयो और बहनो, मुझे गाली देते हुए इन लोगों ने कितनी बार मर्यादा तार-तार की है, ये भी इनकी प्रेम वाली डिक्शनरी से पता चलता है। और साथियो, अब जो शब्द मैं आपको गिनाने जा रहा हूं वो भी सब नहीं थोड़े बहुत सैंपल, अब वो शब्द मैं गिनाने जा रहा हूं, ये सारे ये चाय वाला प्रधानमंत्री बना उसके बाद बोले गए हैं। ये दावा करते हैं की ये प्रधानमंत्री पद की बहुत इज्जत करते हैं, बहुत सम्मान देते हैं। इसीलिए उन्होंने मुझे प्रधानमंत्री बनने के बाद क्या-क्या उपहार दिए, कैसी प्रेम वर्षा की है, कैसी सौगातें दी हैं। मैं आज, मेरे अपने घर आया हूं तो मेरे देशवासियों को कुरुक्षेत्र की सत्या की इस धरती से फिर बताना चाहता हूं। ये सारे चैप्टर नंबर-2 पीएम बनने के बाद का प्रेम क्या बोला। मुझे बताया गया मोस्ट स्टुपिड पीएम कहा गया, मुझे कहा गया जवानों के खून का दलाल है। इनके प्रेम की डिक्शनरी से मेरे लिए गद्दाफी, मुसोलिनी, हिटलर जैसे शब्द भी चलते रहते हैं। भाइयो और बहनो, इनके बड़े-बड़े नेताओं ने मुझे मानसिक तौर पर बीमार बताया, नीच आदमी बताया, यहां तक की ये भी पूछा गया कि मेरे पिता कौन थे ये नहीं मालूम, मेरे दादा कौन थे, ये नहीं मालूम।


साथियो, याद रखिएगा, मुझे ये सारे उपहार प्रधानमंत्री बनने के बाद इनकी प्रेम वर्षा निमित्त आज भी दिए जा रहे हैं। निकम्मा, नशेड़ी, औरंगजेब से भी क्रूर तानाशाह, अनपढ़, गंवार, नमक हराम, नालायक बेटा, तुगलक, नटवरलाल, नकारा बेटा, सब कुछ ये प्रेम वर्षा नामदार की और उसके साथियों की प्रेम वर्षा देखो।


साथियो, इन लोगों ने मेरी मां को गाली दी, ये भी पूछा की मेरे पिता कौन हैं। और याद रखिएगा, ये सब कुछ कहा गया मेरे प्रधानमंत्री बनने के बाद। बहुत अच्छे संस्कार हैं कांग्रेस और उसके नेताओं के और ये हैं उनके प्रेम की डिक्शनरी का सच। मेरे देश के लोगों से बस यही प्रार्थना है की कांग्रेस की ये प्रेम की डिक्शनरी अपने बच्चों के हाथ न लग जाए बस इतनी चिंता करना। मुझे मेरी नहीं आपके बच्चों की चिंता है, उनके संस्कार की चिंता हैं, उनके भविष्य की चिंता है, भाइयो।

साथियो, इन लोगों की गलियों की परवाह न करते हुए, पूरी शक्ति से देश की सेवा कर रहा हूं। हरियाणा भी बीते 5 वर्षों में एक बहुत बड़े परिवर्तन का गवाह रहा है। पानीपत से ही बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ का अभियान मैंने शुरु किया था। हरियाणा ने इन 5 वर्षों में बेटियों का बहुत ध्यान रखा है। आपने मेरी बात का, देश की भावना का मान रखा है, इसके लिए हर हरियाणा वासी, हर हरियाणा वासी का मैं शीष झुकाकर वंदन करता हूं। भाइयो और बहनो, हरियाणा की बेटियां भारत को गौरवान्वित कर रही हैं। मेरा तो सपना है की भारत स्पोर्टिंग सुपर पावर बने। इसमें हरियाणा के सपूतों विशेष तौर पर बेटियों की बहुत बड़ी भूमिका होने वाली है। हमने फाइटर पायलट और मिलिट्री पुलिस तक के रास्ते भी बेटियों के लिए खोल दिए हैं। नए भारत को विकसित और सुरक्षित बनाने में हमारी वीर बेटियां और हमारे वीर बेटों की भूमिका महत्वपूर्ण रहने वाली है। मुझे विश्वास है की कुरुक्षेत्र, अंबाला और करनाल का एक-एक बटन कमल के फूल पर दबेगा। आपका हर वोट सीधा मोदी के खाते में आएगा।
भाइयो-बहनो, मेरा एक काम करोगे? आवाज नहीं आई। मेरा एक काम करोगे, करोगे? आज मैंने पहली बार मेरे सार्वजनिक जीवन में मैं बहुत लंबा समय मुख्यमंत्री रहा हूं, पांच साल से प्रधानमंत्री के रूप में काम कर रहा हूं। मैंने ये दर्द भरी दास्तां अपनी जुबान से पहले कभी नहीं बोली है। आज मैंने अपने घर आया तो ऐसे ही मेरा दिल खुल गया जी भर के बहुत कुछ कह दिया। मैं नहीं जनता हूं जो मैं ये चीज, ये जो विस्तार से मैंने प्रेम वर्षा की कथा बताई है। ये मीडिया के लोग आने वाले 10 दिन तक इसको बताने की हिम्मत करेंगे की नहीं करेंगे मुझे मालूम नहीं है। क्योंकि ये परिवार ये परिवार इन लोगों को बड़ी कृपा रही है वो करें या ना करें, करें तो उनको मैं एडवांस में बहुत धन्यवाद करता हूं। लेकिन क्या आप इन बातों को सोशल मीडिया में मोबाइल फोन पर हिंदुस्तान के कोने-कोने पहुंचा सकते हो?

भाइयो-बहनो, एकतरफा जो मुझ पर जुल्‍म हो रहा है। इसीलिए देश को सच बताना जरूरी है। मैं जनता हूं ये मैं पहली बार नहीं मीडिया में कही ना कही ढूंढो तो कुछ नजर आएगा लेकिन दबा दिया गया है। सबूत के साथ चीजे मौजूद है। भाइयो-बहनो, आप सच्चे दिल में मोदी, मोदी करते हो मोदी को सच्चा प्यार करते हो, सच्चा प्यार करते हो? वो झूठी प्रेम वर्षा, झूठी प्रेम वर्षा नहीं गलियों को छुपाने के लिए बताई गई प्रेम वर्षा नहीं दिल से प्रेम वर्षा करते हो?ये मेरा छोटा सा वीडियो घर-घर पहुंचाओगे, पूरे हिंदुस्तान में जहां भी रिश्तेदार हो पहुंचाओगे? मैं आज विशेष रूप से चाहता हूं क्योंकि इतना झूठ, इतना झूठ चलाया जा रहा है तब जाकर के भाइयो और बहनो, मैं जनता हूं हरियाणा मेरे साथ पूरी तरह खड़े रहने वाला है, हरियाणा में सब की सब सीटों पर कमल खिलने वाला है, मुझे विश्वास है। इसी मिट्टी ने मुझे पाला पोसा बड़ा बनाया है, जिस मिट्टी ने मुझे बड़ा बनाया है उस मिट्टी के लिए मैं जीना मरना भी जनता हूं, दोस्तो। और इसीलिए भाइयो-बहनो, मैं आपसे आग्रह करता हूं 12 तारीख तक चैन से बैठना नहीं है। घर-घर जाएंगे, घर-घर जाएंगे? ऐसा जवाब नहीं चाहिए। घर-घर जाएंगे, सब के सब जाएंगे, पोलिंग बूथ मजबूत बनाएंगे, लोगों को मतदान करवाएंगे? सुबह कितनी गर्मी क्यों ना हो 10 बजे से पहले ज्यादा से ज्यादा मतदान करवा दोगे, सब जगह पर कमल खिलेगा। बहुत बहुत धन्यवाद भाइयो। मेरे साथ हाथ ऊपर कर के बोलिए, भारत माता की जय। दोनों हाथ ऊपर करके बोलिए

भारत माता की… जय
भारत माता की… जय
भारत माता की… जय
बहुत बहुत धन्यवाद।

प्रधानमंत्री मोदी के ‘मन की बात’ कार्यक्रम के लिए भेजें अपने विचार एवं सुझाव
20 Pictures Defining 20 Years of Seva Aur Samarpan
Explore More
'चलता है' नहीं बल्कि बदला है, बदल रहा है, बदल सकता है... हम इस विश्वास और संकल्प के साथ आगे बढ़ें: पीएम मोदी

लोकप्रिय भाषण

'चलता है' नहीं बल्कि बदला है, बदल रहा है, बदल सकता है... हम इस विश्वास और संकल्प के साथ आगे बढ़ें: पीएम मोदी
EPFO adds 15L net subscribers in August, rise of 12.6% over July’s

Media Coverage

EPFO adds 15L net subscribers in August, rise of 12.6% over July’s
...

Nm on the go

Always be the first to hear from the PM. Get the App Now!
...
Leaders from across the world congratulate India on crossing the 100 crore vaccination milestone
October 21, 2021
साझा करें
 
Comments

Leaders from across the world congratulated India on crossing the milestone of 100 crore vaccinations today, terming it a huge and extraordinary accomplishment.