साझा करें
 
Comments
"PM Narendra Modi has a successful visit to France"
"PM Modi addresses the members of UNESCO"
"Shri Narendra Modi meets top French leaders and business heads"
"PM Modi pays a visit to Airbus facility in Toulouse"
"Shri Narendra Modi pays respects to martyrs of World War I at Neuve Chapelle"
"PM Modi reaches out to the diaspora in Paris, pitches for India's membership in the U.N. Security Council"
"प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के तीन देशों के दौरे का पहला चरण समाप्त"
"प्रधानमंत्री मोदी ने यूनेस्को के सदस्यों को संबोधित किया"
"श्री नरेन्द्र मोदी ने फ्रांस के शीर्ष नेताओं और व्यापार प्रमुखों से मुलाकात की "
"प्रधानमंत्री मोदी ने तुलूस में एयरबस सुविधा की यात्रा की"
"श्री नरेन्द्र मोदी ने नव शपैल में प्रथम विश्व युद्ध के शहीदों को श्रद्धाजलि दी "
"प्रधानमंत्री मोदी ने पेरिस में प्रवासी भारतीयों को संबोधित किया और संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में भारत की सदस्यता की मांग की"

9 अप्रैल को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अटलांटिक के नजदीकी देशों, फ्रांस, जर्मनी और कनाडा की अपनी तीन देशों की यात्रा पर निकले। उन्हें सबसे पहले फ्रांस जाना था। श्री मोदी 10 एवं 11 अप्रैल को वहां दो दिनों तक रहे। अपनी यात्रा से पहले श्री नरेन्द्र मोदी ने ट्विटर के माध्यम से इस यात्रा पर अपनी खुशी व्यक्त की थी।

— Narendra Modi (@narendramodi) March 28, 2015

रक्षा और परमाणु ऊर्जा सहयोग के क्षेत्र में फ्रांस लंबे समय से भारत का भागीदार रहा है। इसके अलावा फ्रांस लगातार परमाणु आपूर्तिकर्ता समूह में भारत की सदस्यता का भी समर्थन करता रहा है। पहले ही दिन भारतीय प्रधानमंत्री का गर्मजोशी से समारोहपूर्ण स्वागत किया गया। अपने दो दिनों के दौरान, प्रधानमंत्री मोदी ने फ्रांस के कई नेताओं और व्यापार प्रतिनिधियों और मुख्य कार्यकारी अधिकारियों से मुलाकात की। उन्होंने राष्ट्रपति फ्रेंकवा ओलांद से मुलाकात की और इस मुलाकात को अत्यंत उपयोगी बताया।

— Narendra Modi (@narendramodi) April 10, 2015

प्रधानमंत्री ने यूनेस्को की महानिदेशक सुश्री इरीना बोकोवा और फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति श्री निकोलस सरकोजी से भी मुलाकात की।

राष्ट्रपति ओलांद और प्रधानमंत्री मोदी ने सीन नदी में नौका यात्रा की। फ्रांस के राष्ट्रपति ने खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को फ्रांस के समृद्ध इतिहास और फ्रांस की परंपराओं के बारे में बताया।

 

Thank you President Hollande for the boat ride on the Seine. #France #Paris

A photo posted by Narendra Modi (@narendramodi) on

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने यूनेस्को के सदस्यों को भी संबोधित किया। श्री मोदी ने यूनेस्को की 70वीं वर्षगांठ पर सदस्यों से बात करने का मौका मिलने पर अपनी ख़ुशी जताई। उन्होंने दुनिया की सांस्कृतिक विरासत और भविष्य में इसे और मजबूत बनाने की दिशा में यूनेस्को की पहल और इसके प्रयासों का उल्लेख किया। प्रधानमंत्री मोदी ने यूनेस्को के लिए महात्मा गांधी के संदेश को भी याद किया जिसमें गाँधी ने स्थायी शांति बनाने के लिए शिक्षा की जरूरतों पर तत्काल काम करने की मांग की थी। श्री मोदी ने कहा कि सभी देशों का सामूहिक लक्ष्य पूरी दुनिया के लिए एक सामंजस्यपूर्ण और समृद्ध भविष्य की तलाश करना है। उन्होंने भारत में शिक्षा और विज्ञान के क्षेत्र में यूनेस्को के निरंतर सहयोग के लिए अपना आभार जताया।

भारत-फ्रांस आर्थिक मंच पर दोनों देशों के बीच 17 महत्वपूर्ण समझौते हुए। श्री नरेन्द्र मोदी ने फ्रांस को भारत के सबसे महत्वपूर्ण मित्रों में से एक बताया और ‘मेक इन इंडिया’ पहल का समर्थन करने के लिए फ्रांस के राष्ट्रपति को धन्यवाद दिया। भारत-फ्रांस फोरम में भारत-फ्रांस संबंधों पर जोर दिया गया। प्रधानमंत्री मोदी और राष्ट्रपति ओलांद ने भारत-फ्रांस सहयोग के 50 वर्ष पूरे होने के उपलक्ष्य में टिकटें भी जारी की।

अपने फ्रांस दौरे के दूसरे दिन, श्री नरेन्द्र मोदी ने तुलूस में एयरबस सुविधा, सीएनईएस और नव शपैल की यात्रा की। एयरबस सुविधा में, श्री मोदी ने वहां की बुनियादी सुविधाएँ देखीं और विमानन उद्योग में नवीनतम आविष्कारों के बारे में जानकारी प्राप्त की। सीएनईएस में प्रधानमंत्री ने कुछ युवा शोधकर्ताओं से मुलाकात की। उन्हें अंतरिक्ष विज्ञान और प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में नवीनतम घटनाओं के बारे में जानकारी दी गई।

बाद में, प्रधानमंत्री मोदी ने नव शपैल का दौरा किया जहाँ उन्होंने प्रथम विश्व युद्ध में शहीद हुए भारतीय सैनिकों को श्रद्धांजलि दी।

 

We remember the courage & sacrifice of all Indian soldiers martyred in World War 1. #NeuveChapelle #Tributes #India #France

A photo posted by Narendra Modi (@narendramodi) on

A photo posted by Narendra Modi (@narendramodi) on Apr 11, 2015 at 6:57am PDT

शाम में, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पेरिस के कैरुसल ड्यू लुव्र में प्रवासी भारतीयों को संबोधित किया। भारी संख्या में लोगों की उपस्थिति देख कर वे अत्यंत खुश हुए। प्रवासी भारतीयों को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने भारत और फ्रांस के बीच साझा मूल्यों पर प्रकाश डाला। प्रथम विश्व युद्ध के दौरान भारतीय सैनिकों के योगदान का जिक्र करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत हमेशा शांति का प्रचारक रहा है। प्रधानमंत्री ने सुरक्षा के महत्वपूर्ण क्षेत्रों का जिक्र किया और संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में भारत की सदस्यता की दृढ़ता से मांग की।

अपनी यात्रा के समापन से पहले, श्री नरेन्द्र मोदी ने राष्ट्रपति ओलांद को ‘ट्री ऑफ़ लाइफ’ पेंटिंग भेंट की।

— Narendra Modi (@narendramodi) April 12, 2015

श्री नरेन्द्र मोदी ने दो दिनों में उनकी हार्दिक मेजबानी करने के लिए फ्रांस को धन्यवाद दिया। उन्होंने यह उम्मीद जताई कि रक्षा और प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में सहयोग बढ़ाने के साथ-साथ दोनों देशों के बीच सामरिक भागीदारी मजबूत होगी। प्रधानमंत्री ने फ्रेंच में ट्वीट भी किया और यह उम्मीद भी जताई कि भारत और फ्रांस आने वाले समय में कंधे से कंधा मिलाकर चलेंगे।

— Narendra Modi (@narendramodi) April 12, 2015

Explore More
आज का भारत एक आकांक्षी समाज है: स्वतंत्रता दिवस पर पीएम मोदी

लोकप्रिय भाषण

आज का भारत एक आकांक्षी समाज है: स्वतंत्रता दिवस पर पीएम मोदी
What prof Rajan didn't get about Modi govt's PLI scheme'

Media Coverage

What prof Rajan didn't get about Modi govt's PLI scheme'
...

Nm on the go

Always be the first to hear from the PM. Get the App Now!
...
PM shares memories with Lata Mangeshkar ji
September 28, 2022
साझा करें
 
Comments

The Prime Minister, Shri Narendra Modi has shared memories and moments of his interactions with Lata Mangeshkar ji.

Quoting a tweet thread from Modi Archives, the Prime Minister tweeted:

“Lovely thread. Brings back so many memories…”