साझा करें
 
Comments
"Shri Modi highlighted the strong foundations of the US-India ‘Strategic partnership’ laid by former Prime Minister Shri Atal Bihari Vajpayee"
"Ambassador Powell expressed keenness to take best practices of Governance from Gujarat to be incubated and implemented in developing countries for the benefit of people there"
"Shri Modi stated the need to have a single global yardstick on terrorism, as well as the need to isolate terrorist groups irrespective of their base or victims"

meetingusa-130214-in2

भारत-अमेरिका संबंधों को मजबूती देने और परस्पर सहयोग को लेकर हुई विस्तृत चर्चा

त्वरित निर्णय और स्पष्ट प्रशासनिक प्रक्रिया के चलते गुजरात से खुश है अमेरिकी उद्योगजगतः पॉवेल

गुजरात के मुख्यमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी से अमेरिकी राजदूत सुश्री नैंसी पॉवेल सहित अन्य अमेरिकी अधिकारियों ने गुरुवार को गांधीनगर में मुलाकात की।

सुश्री पॉवेल ने श्री नरेन्द्र मोदी के साथ बृहद वैश्विक प्रवाहों के सन्दर्भ में भारत-अमेरिका के बीच संबंधों को ज्यादा मजबूती प्रदान करने के साथ ही पारस्परिक सहयोग को लेकर विस्तार से चर्चा की।

इससे पूर्व की अपनी गुजरात यात्राओं का सुखद स्मरण करते हुए सुश्री नैंसी पॉवेल ने पुनः गुजरात यात्रा का अवसर मिलने को लेकर खुशी जतायी। सुश्री पॉवेल ने कहा कि गुजरात में विकास के विविध क्षेत्रों में हुए सकारात्मक परिवर्तन और राज्य की गति से वे प्रभावित हुई हैं। गुजरात में निर्णय निर्धारण की प्रक्रिया को अत्यंत तेज तथा प्रशासनिक प्रक्रिया को बेहद स्पष्ट बताते हुए अमेरिकी राजदूत ने कहा कि इन्हीं वजहों से अमेरिका का उद्योगजगत गुजरात से खुश है।

सुश्री पॉवेल ने कहा कि गुजरात के प्रशासनिक अभिगम के अलावा संस्थागत प्रसूति के जरिए माता और शिशु के स्वास्थ्य में सुधार लाने वाली चिरंजीवी योजना जैसी योजनाओं का अनुसरण यदि अन्य विकासशील देश भी करें तो वहां के लोगों को इसका लाभ अवश्य मिलेगा।

meetingusa-130214-in3

अफगानिस्तान की वर्तमान परिस्थिति के संबंध में उन्होंने अफगानिस्तान के अधिकारियों तथा वहां की ग्रामीण महिलाओं को आत्मनिर्भरता का प्रशिक्षण देने को लेकर विस्तार से चर्चा की। श्री नरेन्द्र मोदी ने सुझाव दिया कि सहकारी डेयरी उद्योग क्षेत्र का गुजरात का मॉडल अफगानिस्तान की ग्रामीण अर्थव्यवस्था के लिए अहम साबित हो सकता है। इस सुझाव का स्वागत करते हुए सुश्री पॉवेल ने स्वयं इस दिशा में आगे कदम बढ़ाने की तत्परता व्यक्त की।

पूर्व प्रधानमंत्री श्री अटल बिहारी वाजपेयी द्वारा अमेरिका और भारत के बीच रणनीतिक भागीदारी की मजबूत नींव डाले जाने की रूपरेखा पेश करते हुए मुख्यमंत्री ने भारत के पड़ोसी देशों के साथ शांतिपूर्ण संबंध के लिए श्री वाजपेयी द्वारा किए गए प्रयासों की जानकारी दी। श्री मोदी ने जोर देकर कहा कि अमेरिका के साथ संबंधों को ज्यादा मजबूती प्रदान करने के लिए भारतीय जनता पार्टी प्रतिबद्ध है।

मुख्यमंत्री ने न्यूयार्क में भारतीय महिला राजनयिक के साथ हुए दुर्व्यवहार के प्रति चिंता व्यक्त करते हुए आशा जतायी कि इस परिस्थिति का जल्द ही स्थायी हल निकाल लिया जाएगा। अमेरिकी राजदूत ने भरोसा दिलाया कि इस मुद्दे के त्वरित समाधान के लिए अमेरिकी सरकार प्रतिबद्ध है। श्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि भारत एवं अमेरिका के बीच व्यूहात्मक भागीदारी को ज्यादा मजबूत बनाने के लिए यह जरूरी है कि ऐसी घटनाएं दोबारा न हों।

मुख्यमंत्री ने आतंकवाद के खिलाफ लड़ने के लिए एक वैश्विक मापदंड बनाने की हिमायत की और २६-११ के मुंबई हमले के गुनहगारों को तेजी के साथ कानूनी सजा देने पर जोर दिया।

meetingusa-130214-in1

meetingusa-130214-in4

meetingusa-130214-in5

प्रधानमंत्री मोदी के साथ परीक्षा पे चर्चा
Explore More
'चलता है' नहीं बल्कि बदला है, बदल रहा है, बदल सकता है... हम इस विश्वास और संकल्प के साथ आगे बढ़ें: पीएम मोदी

लोकप्रिय भाषण

'चलता है' नहीं बल्कि बदला है, बदल रहा है, बदल सकता है... हम इस विश्वास और संकल्प के साथ आगे बढ़ें: पीएम मोदी
9,200 oxygen concentrators, 5,243 O2 cylinders, 3.44L Remdesivir vials delivered to states: Govt

Media Coverage

9,200 oxygen concentrators, 5,243 O2 cylinders, 3.44L Remdesivir vials delivered to states: Govt
...

Nm on the go

Always be the first to hear from the PM. Get the App Now!
...
प्रधानमंत्री ने श्री होमेन बोर्गोहिन के निधन पर शोक व्यक्त किया
May 12, 2021
साझा करें
 
Comments

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने श्री होमेन बोर्गोहिन के निधन पर शोक व्यक्त किया है।

प्रधानमंत्री ने एक ट्वीट में कहा, ‘श्री होमेन बोर्गोहिन असमी साहित्य तथा पत्रकारिता में अपने बहुमूल्य योगदान के लिए याद किए जाएंगे। उनका कृतियां असम के जीवन तथा संस्कृति के विविध पहलुओं को परिलक्षित करती हैं। मैं उनके निधन से दु:खी हूं। उनके परिवारजनों तथा प्रशंसकों के प्रति संवेदना। ओम शान्ति।’