करप्शन पर डीएमके पार्टी का पहला कॉपीराइट, पूरा कुनबा मिलकर तमिलनाडु को लूटने में जुटा।
देश के लोगों को भाषा, धर्म और जाति के नाम पर लड़ाना ही डीएमके की राजनीति का मुख्य आधार है।
कच्चातिवू द्वीप की उपेक्षा की कांग्रेस की एक बड़ी भूल ने तमिलनाडु में मछुआरों के जीवन को हमेशा के लिए खतरे में डाल दिया है।
तमिलनाडु का विकास कभी डीएमके की प्राथमिकता नहीं रहा, उसने हमेशा घृणा और विभाजन की राजनीति की।
किसी भी तरीके से सत्ता पर काबिज रहना ही डीएमके और कांग्रेस जैसी परिवारवादी पार्टियों का एकमात्र एजेंडा है।
दशकों तक ‘गरीबी हटाओ’ के नारे के साथ कांग्रेस गरीबी नहीं हटा सकी, एनडीए सरकार ने एक दशक में 25 करोड़ लोगों को गरीबी से बाहर निकाला।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बुधवार को तमिलनाडु के वेलूर और मेट्टूपायलम में जनसभा को संबोधित किया। वेलूर की सभा में लोगों को नववर्ष की बधाई देते हुए उन्होंने कहा, ‘मुझे पक्का विश्वास है कि आने वाला वर्ष तमिलनाडु के विकास की यात्रा को और मजबूत बनाएगा और ये चुनाव उसमें आपका उत्साह उमंग नई ताकत भर देगा’। जनसभा में उमड़ी लोगों की भारी भीड़ को देखते हुए उन्होंने कहा कि वेलूर की धरती नया इतिहास बनाने जा रही है। उन्होंने कहा कि बीजेपी और NDA को तमिलनाडु में अपार जनसमर्थन मिल रहा है और पूरा तमिलनाडु कह रहा है- फिर एक बार, मोदी सरकार!

पीएम मोदी ने कहा कि बीते 10 वर्षों में NDA की central government ने developed भारत की foundation तैयार की है। भारत आज दुनिया की एक ताकत बनकर उभर रहा है। और इसमें तमिलनाडु की बड़ी भूमिका रही है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि NDA सरकार, वेलूर के लोगों की Aspirations को ध्यान में रखते हुए काम कर रही है। उड़ान स्कीम के तहत बन रहा वेलूर का एयरपोर्ट जल्द ही पूरा हो जाएगा। इससे वेलूर एयर कनेक्टिविटी के मैप पर आ जाएगा। उन्होंने DMK पर निशाना साधते हुए कहा कि DMK तमिलनाडु को पुरानी सोच और पॉलिटिक्स में फंसाकर रखना चाहती है। पूरी DMK एक फैमिली की कंपनी बनकर रह गई है। DMK की family politics की वजह से तमिलनाडु के Youth को आगे बढ़ने का मौका नहीं मिल रहा है। इतना ही नहीं DMK ने तमिलनाडु और देश के भविष्य, छोटे-छोटे बच्चों तक को नहीं छोड़ा है। स्कूल तक ड्रग्स कारोबार का शिकार हो गए हैं। इस चुनाव में तमिलनाडु की जनता इन सब पापों का हिसाब करेगी।

पीएम मोदी ने कहा कि DMK पार्टी की पॉलिटिक्स का मुख्य आधार है- Divide…Divide और Divide. ये पार्टी देश के लोगों को भाषा के नाम पर लड़ाती है, क्षेत्र के नाम पर लड़ाती है, धर्म और जाति के नाम पर लड़ाती है। DMK को पता है कि जिस दिन लोग Divide and Rule की पॉलिटिक्स समझ गए, उसे एक वोट नहीं मिलेगा। इसलिए ये लोगों को आपस में लड़ाते हैं। उन्होंने कहा, ‘मैंने भी ठान लिया है कि DMK की इस दशकों पुरानी खतरनाक पॉलिटिक्स को एक्सपोज करके ही रहूंगा’।

तमिल संस्कृति की चर्चा करते हुए उन्होंने कहा, ‘काशी-तमिल संगमम् हो, सौराष्ट्र-तमिल संगमम् हो, मेरा प्रयास होता है कि पूरा देश हमारी महान तमिल संस्कृति को जाने। और आज जब मैं वेलूर आया हूं, तो मैं काशी का सांसद हूं, आप काशी आइए, मैं निमंत्रण देने आया हूं। काशी-तमिल संगमम् को और शानदार बनाइए, दूसरा मैं गुजरात में पैदा हुआ हूं। यहां भी गुजरात के बहुत परिवार रहते हैं। सैकड़ो परिवार हैं यहां हमारे कच्छ के। मैं आपको सौराष्ट्र-तमिल संगमम् के लिए भी एक गुजराती के नाते निमंत्रण देता हूं’। 

कच्चातीवू आईलैंड को लेकर भी पीएम मोदी ने कांग्रेस और डीएमके को जमकर घेरा।  उन्होंने कहा, ‘बीते वर्षों में उस आइलैंड के पास जाने पर तमिलनाडु के हजारों मछुआरे गिरफ्तार हुए हैं। गिरफ्तारी पर कांग्रेस और DMK झूठी हमदर्दी दिखाते हैं। लेकिन ये लोग तमिलनाडु के लोगों को ये सच नहीं बताते कि कच्चातीवू आइलैंड इन्होंने ही श्रीलंका को दिया था। और तमिलनाडु की जनता को अंधेरे में रखा था’।

पीएम ने कहा कि तमिलनाडु शक्ति की उपासना करने वाले लोगों की धरती है। लेकिन इंडी अलांयस के लोग इस शक्ति का भी अपमान करते हैं। उन्होंने कहा, ‘आपको याद होगा काँग्रेस के युवराज ने क्या कहा है कि, हिन्दू धर्म में जो शक्ति है, वो उस शक्ति का विनाश करेंगे! यही मानसिकता DMK की भी है। ये लोग एक सनातन के विनाश की बात करते हैं, राम मंदिर का बहिष्कार करते हैं’।

प्रधानमंत्री ने कहा कि 19 अप्रैल को तमिलनाडु के सम्मान और भविष्य के लिए बहुत बड़ा अवसर आने वाला है। 19 अप्रैल को एनडीए के पक्ष में एक-एक वोट तमिलनाडु के भविष्य की गारंटी बनेगा।

पीएम मोदी की दूसरी रैली नीलगिरी के मेट्टूपायलम में हुई। इस क्षेत्र की तारीफ करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि मेट्टूपालयम में कोयंबटूर जिले की Energy भी है और नीलगिरीस हिल्स की सुंदरता भी है। उन्होंने कहा कि कोंगू और नीलगिरी की ये भूमि बीजेपी के लिए हमेशा ही खास रही है। और इस बार भी पूरे तमिलनाडु में बीजेपी ही छाई हुई है। हर कोई कह रहा है, DMK की विदाई बीजेपी और NDA के द्वारा ही होगी। आज पूरा तमिलनाडु कह रहा है- फिर एक बार, मोदी सरकार!

इंडी अलायंस पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि इन्हें भारत के सामर्थ्य पर विश्वास नहीं है। इंडी अलायंस के लोग कहते थे कि पेंडेमिक में हमारी इकॉनॉमी ठप्प हो जाएगी। लेकिन, केंद्र सरकार की मदद से कोयम्बटूर जैसी जगहों पर काम करने वाली हजारों MSMEs बंद होने से बचीं, लाखों युवाओं के रोजगार बचे।

DMK और कांग्रेस को घेरते हुए पीएम ने कहा कि Discrimination और division का जो खतरनाक खेल कांग्रेस देश में खेलती है, वही खेल DMK तमिलनाडु में खेलती है। उन्होंने कहा, ‘DMK हमेशा से hate और division वाली राजनीति करती है। DMK का फोकस कभी भी तमिलनाडु का विकास नहीं रहा है। लेकिन मैं ये विश्वास दिलाता हूँ, NDA सरकार अपने तीसरे कार्यकाल में कोंगू रीजन और नीलगिरीज के विकास के लिए और तेजी से काम करेगी’।

DMK पर निशाना साधते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि वो सत्ता के अहंकार में डूबी हुई पार्टी है। उन्होंने कहा, ‘जब DMK के एक बड़े नेता से हमारे युवा नेता, अन्नामलाई जी के बारे में पूछा गया तो DMK नेता ने अहंकार में कहा कौन है वो औऱ अपमानजनक शब्दों का इस्तेमाल किया। ये अहंकार तमिलनाडु के महान कल्चर के खिलाफ है। ये अहंकार तमिलनाडु के लोगों को कभी पसंद नहीं आएगा’।

वेलूर पूरा भाषण पढ़ने के लिए यहां क्लिक कीजिए

मेट्टूपालयम पूरा भाषण पढ़ने के लिए यहां क्लिक कीजिए

Explore More
अमृतकाल में त्याग और तपस्या से आने वाले 1000 साल का हमारा स्वर्णिम इतिहास अंकुरित होने वाला है : लाल किले से पीएम मोदी

लोकप्रिय भाषण

अमृतकाल में त्याग और तपस्या से आने वाले 1000 साल का हमारा स्वर्णिम इतिहास अंकुरित होने वाला है : लाल किले से पीएम मोदी
India can be world's second-largest economy by 2031: RBI DG Patra

Media Coverage

India can be world's second-largest economy by 2031: RBI DG Patra
NM on the go

Nm on the go

Always be the first to hear from the PM. Get the App Now!
...
Delegation from Catholic Bishops' Conference of India calls on PM
July 12, 2024

A delegation from the Catholic Bishops' Conference of India called on the Prime Minister, Shri Narendra Modi today.

The Prime Minister’s Office posted on X:

“A delegation from the Catholic Bishops' Conference of India called on PM Narendra Modi. The delegation included Most Rev. Andrews Thazhath, Rt. Rev. Joseph Mar Thomas, Most Rev. Dr. Anil Joseph Thomas Couto and Rev. Fr. Sajimon Joseph Koyickal.”