साझा करें
 
Comments
उत्तर प्रदेश के फतेहपुर में प्रधानमंत्री मोदी का चुनाव प्रचार, जनता से भाजपा सरकार के लिए वोट करने का आग्रह किया
फतेहपुर: प्रधानमंत्री ने शिवाजी महाराज को दी श्रद्धांजलि, सरदार पटेल के योगदान को भी किया याद
देश तेजी से आगे बढ़ रहा है और उत्तर प्रदेश को भी आगे बढ़ना पड़ेगा: प्रधानमंत्री
फतेहपुर में बोले प्रधानमंत्री मोदी, राज्य की कानून व्यवस्था में सुधार के लिए सपा सरकार ने कोई काम नहीं किया
फतेहपुर में बोले प्रधानमंत्री मोदी, हमारी सरकार का मंत्र ‘सबका साथ, सबका विकास’ है

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने फतेहपुर में विशाल रैली को संबोधित करते हुए आज कहा कि उत्तर प्रदेश में विकास का वनवास खत्म करने का समय आ गया है। 14 साल पूरे हो चुके हैं और इसलिए जनता बदलाव के लिए बढ़-चढ़ कर मतदान कर रही है। प्रधानमंत्री ने उत्तर प्रदेश चुनाव में भारी बहुमत से जीत का भरोसा जताते हुए कहा कि उनकी पार्टी की सरकार प्रदेश में विकास की गंगा बहाएगी।

प्रधानमंत्री ने कहा कि जब तक कानून व्यवस्था प्राथमिकता में नहीं होगी, तब तक न ईमानदार जी सकेंगे और न ही कोई पूंजी निवेश आएगा। और, ऐसा नहीं हुआ तो रोजगार भी नहीं मिलेगा। उन्होंने आगे कहा- “अगर रोजगार नहीं मिलेगा, तो उत्तर प्रदेश के नौजवानों को पलायन से कौन बचाएगा? हर बात की जड़ में कानून व्यवस्था होती है।“

प्रधानमंत्री ने कहा कि उत्तर प्रदेश में ये कैसी सरकार है कि एक एफआईआर दर्ज कराने के लिए भी सुप्रीम कोर्ट को पहल करनी पड़ती है।

प्रधानमंत्री ने किसानों के लिए बड़ी घोषणा करते हुए कहा कि यूपी में बीजेपी की सरकार बनते ही छोटे किसानों के वो कर्ज माफ कर दिए जाएंगे जो उन्होंने फसल के लिए लिये हैं- ”नयी सरकार की पहली मीटिंग होगी। उस पहली मीटिंग में ही किसानों के कर्ज माफी का निर्णय करवा दूंगा।“

प्रधानमंत्री ने कहा कि ये देश के लोगों का जज्बा है कि वो एक अपील पर गैस की सब्सिडी छोड़ने को तैयार हो जाते हैं। उन्होंने सवा करोड़ लोगों को इस बात के लिए धन्यवाद दिया कि उन्होंने सब्सिडी छोड़ दी।

अपनी माता को लकड़ी से चूल्हे जलाकर खाना पकाने के दिनों को याद करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि ऐसा करने पर एक मां के शरीर में 400 सिगरेट का धुआं जाता है। उन्होंने कहा कि वे इस दर्द को जानते हैं, समझते हैं- “वो दर्द मैंने देखा है, महसूस किया है। वो दर्ज आज भी कुछ करने के लिए प्रेरणा देता है।“

प्रधानमंत्री ने कहा कि केंद्र सरकार की योजना 5 करोड़ गरीब परिवारों के घर में गैस का चूल्हा पहुंचाने की है। 10 से 11 महीने में ही पौने दो करोड़ से ज्यादा परिवारों तक मुफ्त गैस का चूल्हा पहुंच चुका है।  

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि केंद्र सरकार ने नीम कोटेड यूरिया को सुलभ बनाया और कालाबाजार खत्म कर दिया। अब न लाइन लगती है, न किसानों को कोई शिकायत है। जबकि, उन्होंने कहा- “एक जमाना था यूरिया पाने के लिए कतार में खड़ा रहना पड़ता था। पुलिस की लाठी  खानी पड़ती थी या तो यूरिया ब्लैक मार्केट में लेना पड़ता था।“

प्रधानमंत्री ने कहा कि तीन सौ से लेकर चार सौ रुपये में मिलने वाले एलईडी बल्ब 70-80 रुपये की कमत तक आ चुका है। केंद्र सरकार ने एलईडी बल्ब के नाम पर लूट को रोका है। आज हालत ये है कि- “एक साल में करीब-करीब हिन्दुस्तान में 20 करोड़ एलईडी बल्ब बिक चुके है।“ उन्होंने कहा कि सस्ते एलईडी बल्ब और बिजली की बचत ने छोटे परिवारों के 11 हजार करोड़ रुपये बचा दिए हैं।

प्रधानमंत्री ने कहा कि नोटबंदी के बाद जिन लोगों को पाई-पाई का हिसाब बैंकों में जमा करना पड़ रहा है, वे लोग बदला लेने की फिराक में हैं। लेकिन, उन्होंने कहा- “ये काम गरीबों को हक दिलाने के लिए, भ्रष्टाचार मिटाने के लिए, नौजवानों का भविष्य बदलने के लिए पैसा काम आए, इसलिए किया है।“

प्रधानमंत्री ने कहा कि चंडीगढ़ में निगम चुनाव, महाराष्ट्र, कर्नाटक, गुजरात में हुए स्थानीय निकाय़ों के चुनाव के बाद ओडिशा में जारी चुनाव नतीजे बता रहे हैं कि जनता बीजेपी के साथ है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि समाजवादी पार्टी के नेता पहले कहते थे अकेले लड़ेंगे, भारी बहुमत से जीतेंगे। फिर गठबंधन कर लिया और जीता का दावा करने लगे और अब तीसरा चरण आते-आते कहने लगे हैं कि सबसे बड़ी पार्टी जरूर बनेंगे।

पीएम मोदी ने कहा कि जिन्हें 27 साल से यूपी बेहाल लगता था उन्होंने भी जब दाल नहीं गली, तो समाजवादी पार्टी का दामन थाम लिया। वहीं समाजवादी पार्टी को भी जब लगा कि भारी प्रचार का कोई फायदा नहीं हो रहा है तो दोनों डूबने वालों ने एक-दूसरे का हाथ पकड़ लिया।

फतेहपुर को ऐतिहासिक धाम बताते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि यह गुरु अर्जुन देव, ऋषि भृगु जैसे महान संतों की तपोस्थली रही है। गणेश शंकर विद्यार्थी, राष्ट्रकवि सोहनलाल द्विवेदी जैसी शख्सियत की ये कर्म भूमि रही है। पीएम ने उन 52 स्वतंत्रता सेनानियों को भी याद किया जिन्हें इमली के पेड़ से लटका दिया गया था। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने छत्रपति शिवाजी के त्याग और बलिदान से सबक लेने की अपील करते हुए सरदार बल्लभ भाई के रास्ते का अनुसरण करने की अपील की।

पूरा भाषण पढ़ने के लिए यहां क्लिक कीजिए

भारत के ओलंपियन को प्रेरित करें!  #Cheers4India
मोदी सरकार के #7YearsOfSeva
Explore More
'चलता है' नहीं बल्कि बदला है, बदल रहा है, बदल सकता है... हम इस विश्वास और संकल्प के साथ आगे बढ़ें: पीएम मोदी

लोकप्रिय भाषण

'चलता है' नहीं बल्कि बदला है, बदल रहा है, बदल सकता है... हम इस विश्वास और संकल्प के साथ आगे बढ़ें: पीएम मोदी
Over 44 crore vaccine doses administered in India so far: Health ministry

Media Coverage

Over 44 crore vaccine doses administered in India so far: Health ministry
...

Nm on the go

Always be the first to hear from the PM. Get the App Now!
...
सोशल मीडिया कॉर्नर 27 जुलाई 2020
July 27, 2021
साझा करें
 
Comments

PM Narendra Modi lauded India's first-ever fencer in the Olympics CA Bhavani Devi for her commendable performance in Tokyo

PM Modi leads the country with efficient government and effective governance