साझा करें
 
Comments
देश में आस्था, अध्यात्म और ऐतिहासिक महत्व से जुड़े हर स्थान में आधुनिक सुविधाएं तैयार की जा रही हैं : देवघर में पीएम मोदी
शॉर्ट-कट की राजनीति करने वाले कभी एयरपोर्ट नहीं बनवाएंगे और न कभी नए आधुनिक हाईवेज बनवाएंगे : देवघर में पीएम मोदी
आज हम एक कार्य संस्कृति, एक राजनीतिक संस्कृति और एक शासन मॉडल लेकर आए हैं जिसमें हम हर उस चीज का उद्घाटन करते हैं जिसकी आधारशिला रखते हैं: पीएम मोदी

मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने झारखंड के देवघर में बाबा बैद्यनाथ की धरती पर जनसभा को संबोधित किया। बीजेपी कार्यकर्ताओं और आम लोगों के जनसैलाब के बीच, बाबा बैजनाथ के जयकारे के साथ पीएम मोदी ने अपने संबोधन की शुरुआत विकास की बात से करते हुए कहा, ”कल देवघर की दीवाली देश और दुनिया ने देखी है। हजारों दीयों से जिस प्रकार आपने विकास के उत्सव का स्वागत किया है, वो अद्भुत है। इसी उत्साह को मैं यहां भी अनुभव कर रहा हूं।“

प्रधानमंत्री मोदी देवघर के बाबाधाम में बाबा के दर्शन के बाद जनसभा में पहुंचे थे। जहां उन्होंने विकास की चर्चा करते हुए कहा कि झारखंड के विकास के लिए हजारों करोड़ रुपए की योजनाओं को बाबा के चरणों में अर्पित किया गया है, विशेष रूप से बाबाधाम में जिस प्रकार सुविधाओं का विस्तार हुआ है, उससे कांवड़ियों और श्रद्धालुओं को बहुत लाभ होगा।

पीएम मोदी ने नए देवघर एयरपोर्ट की चर्चा करते हुए कहा कि उन्होंने जिस नए एयरपोर्ट का शिलान्यास किया था, उसके लोकार्पण का भी उन्हें सौभाग्य प्राप्त हुआ है। उन्होंने आगे कहा, “आपने अपना स्नेह देकर मुझे जिस तरह अपना ऋणी बना लिया है, उसको मैं तेज विकास करके, सबका विकास करके, चुकाने का ईमानदारी से प्रयास कर रहा हूं। आज 16 हजार करोड़ रुपए से ज्यादा की ये योजनाएं, इसी दिशा में एक कदम हैं।“

पीएम मोदी ने कहा कि भारत आस्था, अध्यात्म और तीर्थस्थलों की धरती है। भारत की इन्हीं धरोहरों को सुरक्षित करने, इन तक पहुंचने का मार्ग आसान बनाने के लिए आज अभूतपूर्व निवेश किया जा रहा है। उन्होंने आगे कहा, “बाबा वैद्यनाथ धाम हो, काशी विश्वनाथ धाम हो,केदारनाथ धाम हो, अयोध्या धाम हो, रामायण सर्किट हो, भगवान बुद्ध से जुड़े पवित्र स्थान हों, देश में आस्था, अध्यात्म और ऐतिहासिक महत्व से जुड़े हर स्थान में आधुनिक सुविधाएं तैयार की जा रही हैं।“

भारत के कोने-कोने में पर्यटन की शक्ति का जिक्र करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि यह समय की मांग है कि भारत अपनी विरासत को ज्यादा से ज्यादा और तेजी के साथ संरक्षित करे, वहां आधुनिक सुविधाएं बढ़ाए। काशी विश्वनाथ हो, केदारनाथ धाम या फिर सरदार पटेल की विश्व की सबसे ऊंची प्रतिमा- स्टैच्यूऑफ यूनिटी, बीते वर्षों में जिन भी तीर्थ स्थलों को आधुनिक सुविधाओं से जोड़ा गया, वहां पर्यटकों की संख्या बढ़ी है। इसका सीधा लाभ वहां रहने वाले लोगों को हुआ है। झारखंड में भी बढ़ती हुई कनेक्ट्विटी, आस्था के स्थलों का सुंदरीकरण, पर्यटन को बढ़ाएगा, स्थानीय लोगों की आय बढ़ाएगा और विकास की नई परियोजनाओं से झारखंड के विकास को नई गति मिलेगी।

प्रधानमंत्री मोदी ने देवघर में एम्स की चर्चा करते हुए कहा कि केद्र सरकार झारखंड में स्वास्थ्य सेवाओं की बेहतरी के लिए निरंतर काम कर रही है। आयुष्मान भारत के तहत झारखंड के भी 12 लाख से अधिक लोगों को मुफ्त इलाज मिला है और अब देवघर में एम्स बनने से भी गरीबों की बहुत बचत होने वाली है।

झारखंड में विकास की नई परियोजनों की चर्चा करते हुए पीएम मोदी ने कहा, “आदिवासी समाज का सशक्तिकरण, उनके बच्चों का उज्जवल भविष्य न सिर्फ भाजपा की प्राथमिकता है बल्कि ये केंद्र सरकार की नीतियों में भी साफ-साफ झलकता है। देश के 100 से अधिक आकांक्षी जिलों में अनेक जिले झारखंड के हैं, उसमें भी अधिकतर संथाल-परगना में हैं। देश के 44 जनजातीय जिलों में 4G मोबाइल कनेक्टिविटी मजबूत करने के लिए सरकार लगभग 6 हज़ार करोड़ रुपए खर्च करने जा रही है। इसी तरह केंद्र सरकार झारखंड में 90 से अधिक एकलव्य स्कूल बना रही है।“

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि झारखंड के पास देश का अग्रणी औद्योगिक राज्य बनने की हर संभावना मौजूद है। उन्होंने कहा कि झारखंड पाइप से रसोई गैस और CNG आधारित ट्रैफिक के मामले में देश के अव्वल राज्यों में है, ऐसा प्रधानमंत्री ऊर्जा गंगा योजना के कारण संभव हो रहा है। सिंदरी खाद कारखाना, जो बंद पड़ गया था, उसे फिर से शुरू करने का काम तेजी से चल रहा है। संथाल परगना के लिए पहले फोरलेन हाईवे का भी शिलान्यास किया गया है। इससे इस पूरे अंचल में कनेक्टिविटी को विस्तार मिलेगा। साहिबगंज में गंगा नदी पर मल्टीमोडल हब भी बनाया गया है, ताकि यहां के उद्योगों को भी हल्दिया से वाराणसी पर बने नदी जलमार्ग का लाभ मिल सके। झारखंड को समुद्री रास्ते से कनेक्ट करने के लिए जो भी प्रयास हो रहे हैं, उससे यहां उद्योग लगाना बहुत आसान हो जाएगा।“

देवघर में पीएम मोदी ने शॉर्ट-कट की राजनीति पर प्रहार करते हुए कहा, “ जिस देश की राजनीति शॉर्ट-कट पर आधारित हो जाती है, उसका एक ना एक दिन शॉर्ट-सर्किट भी हो जाता है। शॉर्ट-कट की राजनीति, देश को तबाह कर देती है। भारत में हमें ऐसी शॉर्ट-कट अपनाने वाली राजनीति से दूर रहना है।“
अपने संबोधन के आखिर में पीएम मोदी ने स्वच्छता का संदेश देते हुए कहा कि सुविधाओं के निर्माण के साथ, उनका खयाल रखना भी जरूरी है। देवघर के बाबाधाम को स्वच्छ रखने की ज़िम्मेदारी भी सभी की है, इसलिए कोशिश यह होनी चाहिए कि स्वच्छता की रैंकिंग में देवघर देश के अव्वल शहरों में गिना जाए।

 

पूरा भाषण पढ़ने के लिए यहां क्लिक कीजिए

प्रधानमंत्री मोदी के मन की बात कार्यक्रम के लिए भेजें अपने विचार एवं सुझाव
Explore More
आज का भारत एक आकांक्षी समाज है: स्वतंत्रता दिवस पर पीएम मोदी

लोकप्रिय भाषण

आज का भारत एक आकांक्षी समाज है: स्वतंत्रता दिवस पर पीएम मोदी
India saw 20.5 bn online transactions worth Rs 36 trillion in Q2

Media Coverage

India saw 20.5 bn online transactions worth Rs 36 trillion in Q2
...

Nm on the go

Always be the first to hear from the PM. Get the App Now!
...
PM responds to citizens’ comments on projects in Himachal Pradesh
October 05, 2022
साझा करें
 
Comments

The Prime Minister, Shri Narendra Modi today responded to citizens’ comments regarding projects in Himachal Pradesh. The Prime Minister is enroute to Himachal Pradesh for dedication and foundation stone laying of these projects.

On dedication of AIIMS Bilaspur, whose foundation stone was also laid by the Prime Minister: