साझा करें
 
Comments
असम के लोग 'फिर एक बार एनडीए सरकार का फैसला' कर चुके हैं: असम के तामुलपुर में प्रधानमंत्री मोदी
बीते 5 वर्षों में डबल इंजन की एनडीए सरकार ने असम की जनता को डबल फायदा दिलाने का प्रयास किया है: तामुलपुर में प्रधानमंत्री मोदी
यह देश का दुर्भाग्य है कि किसी विशेष वर्ग के लिए काम करना धर्मनिरपेक्षता कहलाता है जबकि सभी के लिए काम करने पर आपको सांप्रदायिक कहा जाता है : पीएम मोदी
मैं कह सकता हूं कि लोगों ने असम में एनडीए सरकार बनाने का फैसला किया है। वे असम की पहचान का अपमान करने वाले और हिंसा फैलाने वालों को सहन नहीं कर सकते : पीएम मोदी

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शनिवार को असम के तमुलपुर में जनसभा को संबोधित किया। प्रधानमंत्री का भाषण सुनने के लिए सभा स्थल पर भारी भीड़ उमड़ी थी। उन्होंने कहा, “हम परिश्रम करने वाले लोग हैं, समाज की सेवा के लिए दिन-रात एक करने वाले लोग हैं, विकास के लिए ईमानदारी से काम करने वाले लोग हैं। असम के लोग आज देख रहे हैं कि सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास हमारी नीति में भी है और नीयत में भी है। गरीबों को पक्का घर मिल रहा है, तो हर वर्ग, हर जनजाति के गरीबों को मिल रहा है। शौचालय मिला, तो सभी को मिला। गैस कनेक्शन मिला, तो सभी को मिला। पीएम किसान सम्मान योजना का लाभ हर छोटे-बड़े किसान को मिला। आयुष्मान भारत के तहत 5 लाख रुपए के मुफ्त इलाज की सुविधा भी हर वर्ग हर क्षेत्र के गरीबों को मिल रही है। लॉकडाउन के दौरान बैंक खाते में मदद हो या मुफ्त सिलेंडर, हर वर्ग की गरीब बहनों को लाभ पहुंचा है। अरुणोदय योजना का लाभ भी हर वर्ग, हर जनजाति की बहनों को मिला है।”

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि हम जब भी कोई योजना बनाते हैं, तो सबके लिए बनाते हैं। हर क्षेत्र के लोगों को, हर वर्ग के लोगों तक बिना भेदभाव, बिना पक्षपात, उस योजना का लाभ पहुंचाने के लिए हम कड़ी मेहनत करते हैं। उन्होंने कहा, “बीते 5 वर्षों में डबल इंजन की एनडीए सरकार ने असम की जनता को डबल फायदा दिलाने का प्रयास किया है। असम में हो रहा विकास यहां पर कनेक्टिविटी बढ़ा रहा है, लोगों का, महिलाओं का जीवन आसान बना रहा है, नए अवसर बना रहा है, नौजवानों के लिए अवसर बढ़ा रहा है।”

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, “बीते 5 सालों में भूपेन हजारिका सेतु, बोगीबील ब्रिज जैसे देश के सबसे बड़े सेतुओं की पहचान असम को मिली है। इस समय भी असम में करीब आधा दर्जन बड़े पुलों पर काम चल रहा है। बीते 70 साल में असम में जितनी ग्रामीण सड़कें बनीं, उससे भी ज्यादा सड़कें डबल इंजन की NDA सरकार ने बनाईं हैं। बीते 5 साल में असम में सैकड़ों किलोमीटर नई रेल लाइनें बिछाई गईं हैं या फिर उनका दोहरीकरण किया गया है। एक तरफ जहां गुवाहाटी के एयरपोर्ट का विस्तार हो रहा है तो दूसरी तरफ ढुबरी में रुपसी एयरपोर्ट की क्षमता को बढ़ाया जा रहा है। जहां-जहां कनेक्टिविटी सुधारने की जरूरत है, एक एक करके हर क्षेत्र में नए काम शुरू किए जा रहे हैं। यह क्षेत्र देश-विदेश के साथ व्यापार का बड़ा सेंटर बने, इसके लिए बोंगईगांव के जोगीघोपा में बहुत बड़ा मल्टीमॉडल लॉजिस्टक हब बनाया जा रहा है। बोंगईगांव रिफाइनरी का आधुनिकीकरण और विस्तारीकरण भी तेजी से जारी है। यह सारे काम असम के नौजवानों के लिए नई नौकरियां बना रहे हैं, स्थानीय स्तर पर उद्योगों को बल दे रहे हैं। यही नए असम, आत्मनिर्भर असम का आधार हैं।”

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि आज पूरा असम यह मानता है कि विकास के इस मोमेन्टम को बनाए रखने के लिए यहां एनडीए सरकार जरूरी है। उन्होंने कहा, “एनडीए सरकार मानती है कि किसी भी क्षेत्र के लोगों का विकास भेदभाव से नहीं, सद्भाव से होता है। इसी सद्भावना का परिणाम है कि लंबे इंतजार के बाद ऐतिहासिक बोडो अकॉर्ड तक हम पहुंच पाए। अनेक माताओं के आंसू पोंछने, अनेक बहनों की पीड़ा को दूर करने के लिए हम सभी ने मिलकर प्रयास किया। कांग्रेस सरकार ने अपने समय में असम को हिंसा, बम-बंदूक का लंबा दौर दिया। वहीं, एनडीए सरकार असम के हर साथी को साथ लेकर शांति और समृद्धि के रास्ते पर आगे बढ़ रही है।”

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि असम में टूरिज्म के लिए, टूरिज्म आधारित रोजगार के लिए बहुत स्कोप है। टूरिज्म को बढ़ाने के लिए यहां की रोड कनेक्टिविटी, तेज इंटरनेट कनेक्टिविटी को गांव-गांव तक पहुंचाने का प्रयास किया जा रहा है। जो काम अभी चल रहे हैं, एनडीए सरकार की वापसी के बाद उन्हें और तेजी से पूरा किया जाएगा। जहां भी नए पुलों की आवश्यकता है, नए पुल बनाए जाएंगे, आवाजाही को और आसान बनाया जाएगा।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, “चाय बागान में काम करने वाले लोगों के लिए सबसे ज्यादा काम एनडीए सरकार ने ही किया है। इस साल के केंद्रीय बजट में चाय बागान में काम करने वालों के लिए 1000 करोड़ रुपए की विशेष व्यवस्था की गई है। चाहे मजदूरी में वृद्धि हो, अनेक योजनाओं के तहत बैंक अकाउंट में सीधी मदद हो, स्वास्थ्य और घर की सुविधाएं हों, ये सभी काम आगे निरंतर चलते रहेंगे।“

प्रधानमंत्री मोदी ने पहली बार वोट डालने जा रहे युवाओं से विशेष आग्रह किया कि देश की आजादी के 75वें वर्ष का पर्व मनाते हुए आप जो वोट डालेंगे, वो इस बात को भी तय करेगा कि जब हम आजादी के 100 वर्ष मनाएंगे तो असम कितना आगे होगा। आज डाला गया आपका वोट, आपके भविष्य के 25 वर्षों की नींव तय करेगा। प्रधानमंत्री मोदी ने लोगों से भारी संख्या में निकलकर मतदान करने की अपील की।

 

 

पूरा भाषण पढ़ने के लिए यहां क्लिक कीजिए

प्रधानमंत्री मोदी के साथ परीक्षा पे चर्चा
Explore More
'चलता है' नहीं बल्कि बदला है, बदल रहा है, बदल सकता है... हम इस विश्वास और संकल्प के साथ आगे बढ़ें: पीएम मोदी

लोकप्रिय भाषण

'चलता है' नहीं बल्कि बदला है, बदल रहा है, बदल सकता है... हम इस विश्वास और संकल्प के साथ आगे बढ़ें: पीएम मोदी
PM Modi says, Centre, all states govts together making continuous efforts to ensure maximum people get vaccinated at rapid pace

Media Coverage

PM Modi says, Centre, all states govts together making continuous efforts to ensure maximum people get vaccinated at rapid pace
...

Nm on the go

Always be the first to hear from the PM. Get the App Now!
...
Prime Minister, Shri Narendra Modi condoles demise of Giani Joginder Singh Vedanti
May 16, 2021
साझा करें
 
Comments

The Prime Minister, Shri Narendra Modi has expressed grief over the demise of Giani Joginder Singh Vedanti Ji.

"In a tweet, the Prime Minister said, "Giani Joginder Singh Vedanti Ji was scholarly and humble. His life was a manifestation of selfless human service. He worked to create a compassionate and harmonious society. Pained by his demise. Condolences to his family and admirers."