साझा करें
 
Comments

The Prime Minister, Shri Narendra Modi, will visit Odisha on 24th December, 2018.

At the IIT Bhubaneswar campus, the Prime Minister will release a commemorative stamp and coin on the Paika Rebellion. The Paika Rebellion (PaikaBidroha) was fought against British rule, in Odisha in 1817.

During the event, an announcement will also be made about the setting up of a Chair on the Paika Rebellion, in Utkal University, Bhubaneswar.

The Prime Minister will inaugurate the Lalitgiri Museum.Lalitgiri in Odisha is a famous Buddhist centre of archaeological importance, comprising Stupa, Viharas (monasteries) and images of Lord Buddha.

Shri Narendra Modi will dedicate the IIT Bhubaneswar campus, to the nation. He will also inaugurate the new ESIC Hospital at Bhubaneswar.

The Prime Minister will lay the Foundation Stone for pipeline and road projects.

20 Pictures Defining 20 Years of Seva Aur Samarpan
Explore More
'चलता है' नहीं बल्कि बदला है, बदल रहा है, बदल सकता है... हम इस विश्वास और संकल्प के साथ आगे बढ़ें: पीएम मोदी

लोकप्रिय भाषण

'चलता है' नहीं बल्कि बदला है, बदल रहा है, बदल सकता है... हम इस विश्वास और संकल्प के साथ आगे बढ़ें: पीएम मोदी
Reading the letter from PM Modi para-swimmer and author of “Swimming Against the Tide” Madhavi Latha Prathigudupu, gets emotional

Media Coverage

Reading the letter from PM Modi para-swimmer and author of “Swimming Against the Tide” Madhavi Latha Prathigudupu, gets emotional
...

Nm on the go

Always be the first to hear from the PM. Get the App Now!
...
प्रधानमंत्री ने हिमाचल प्रदेश के कुल्लू में हुए अग्निकांड के कारण हुई त्रासदी पर गहरा दु:ख व्यक्त किया
October 27, 2021
साझा करें
 
Comments

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने हिमाचल प्रदेश के कुल्लू में अग्निकांड की त्रासदी के कारण प्रभावित हुए परिवारों के प्रति गहरा दु:ख व्यक्त किया है। प्रधानमंत्री ने यह भी कहा है कि राज्य सरकार और स्थानीय प्रशासन राहत और बचाव के काम में पूरी तत्परता से जुटे हुए हैं।

प्रधानमंत्री ने एक ट्वीट में कहा;

"हिमाचल प्रदेश के कुल्लू में हुआ अग्निकांड अत्यंत दुखद है। ऐतिहासिक मलाणा गांव में हुई इस त्रासदी के सभी पीड़ित परिवारों के प्रति मैं अपनी संवेदना व्यक्त करता हूं। राज्य सरकार और स्थानीय प्रशासन राहत और बचाव के काम में पूरी तत्परता से जुटे हैं।"