साझा करें
 
Comments
आपको अपने पड़ोस में 5 परिवारों तक पहुंचना चाहिए और उनसे पूछताछ करनी चाहिए कि क्या वे केंद्र और राज्य सरकार की किस योजना का लाभ ले रहे हैं: प्रधानमंत्री मोदी
आपको भाजपा के दिग्गज नेताओं और जनसंघ के नेताओं की सूची बनानी चाहिए और साल में कम से कम एक बार उनके लिए सभा आयोजित करने का प्रयास करना चाहिए: पीएम मोदी
लाखों वीर बेटे-बेटियों और उनके परिवारों को भी शुभ कामनाएं देना हमारा कर्तव्य बनाता है: प्रधानमंत्री

"गांधी@150 हमारे देश के लिए एक बहुत बड़ा अवसर है, जो हम सभी को प्रेरणा देता है। गांधी@150 के माध्यम से देश को एक नई ऊर्जा मिले, एक नया विश्वास पैदा हो, इस दिशा में हमें ध्यान केंद्रित करना चाहिए। क्या हम निर्णय कर सकते हैं कि गांधी@150 और आजादी के 75 साल, 2022 तक हम केवल लोकल चीजें खरीदेंगे। अगर हमारे गांव में चीजें बनती हैं तो हम बाहर से नहीं लेंगे। गांव में नहीं हैं तो ब्लॉक, जिले या राज्य से लेंगे। लेकिन कोशिश करेंगे कि जो भी हम लें, वो लोकल लें।"

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने ये बातें गुरुवार को अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी के कार्यकर्ताओं से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए संवाद करने के दौरान कहीं। उन्होंने कहा कि हमें तय करना होगा कि केंद्र और राज्य सरकार की योजनाओं का लाभ समाज के अंतिम व्यक्ति तक पहुंचे। हमें तय करना चाहिए हम प्रतिदिन ऐसे 5 परिवारों को मिलें, जिन्हें हम इन योजनाओं की जानकारियां पहुंचा सकें। श्री मोदी ने कहा, "पिछले 70 साल में जो लोगों को मिलना था, वो हमें अपने ही कार्यकाल में पूरा करना है। लोगों को अनुभव कराना है कि देश आजाद हुआ है, मतलब उनके भाग्य खुल गए हैं।"

पीएम मोदी ने कहा कि मंदिर सिर्फ भगवान की पूजा के स्थल ही नहीं होते, बल्कि वह हमारी आस्था के केंद्र होते हैं, हमारे भक्ति भाव के सेंटर होते हैं। चाहे काशी विश्वनाथ का मंदिर हो या कोई अन्य मंदिर, यहां आकर हर किसी के मन में पॉजिटिविटी का संचार होता है। उन्होंने कहा, "काशी विश्वनाथ धाम मैं नहीं बना रहा हूं। ये सब तो भोले बाबा के आशीर्वाद से हो रहा है। इतना बड़ा कार्य केवल सरकार और प्रशासन के द्वारा संभव नहीं हो रहा है, बल्कि इसमें 300 परिवारों ने अपनी पुश्तैनी संपत्ति को सौंपकर महत्वपूर्ण योगदान दिया है। आज लगभग 40 हजार वर्गमीटर के क्षेत्र में जो कार्य हो रहा है, वो बिना काशीवासियों के सहयोग के संभव नहीं था।"

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि काशी में हो रहे परिवर्तन का लाभ केवल वाराणसी को ही नहीं, बल्कि आसपास के क्षेत्रों को भी हो रहा है। वाराणसी में जिस तरह गंगा घाटों और सड़कों पर सफाई और लाइटिंग का कार्य हुआ है, उसने वहां आने वाले पर्यटकों का मन मोह लिया है। पर्यटकों की संख्या लगातार बढ़ रही है। श्री मोदी ने कहा, "आप भाजपा कार्यकर्ता विकास की अनेक परियोजनाओं को जिस तरह वाराणसी में जमीन पर उतारने में मदद कर रहे हैं, वो मेरे लिए बहुत संतोष और गर्व का विषय है।" प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि हमारी पार्टी अचानक नहीं बनी, चार-चार पीढ़ी तक कार्यकर्ताओं ने अथाह परिश्रम किया, तब जाकर हमने लोगों का विश्वास पाया है।

पीएम मोदी ने कहा कि हमारे इलाके में कोई न कोई ऐसी बेटी होगी, जिसने अच्छा काम किया होगा। क्यों न हम इस दिवाली 'भारत की लक्ष्मी' का शुभारंभ करें और इसके द्वारा बेटियों का सम्मान करें। उन्होंने यह भी कहा कि इस दिवाली हम तय करें कि कोई भी चीज बर्बाद नहीं होने देंगे और उसे जरूरतमंद को सम्मान के साथ देंगे। आप अगर जनसामान्य के सुख-दुख के साथी बनकर दिवाली मनाएंगे तो उसका अलग ही आनंद है।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि आयुष्मान भारत योजना का लाभ अब तक 50 लाख से ज्यादा लोग उठा चुके हैं। देश में 10 करोड़ से अधिक लोगों को ई-कार्ड्स जारी किए जा चुके हैं। वाराणसी में ही 1.65 लाख से अधिक लोगों को योजना के गोल्डन कार्ड्स मिल चुके हैं। देशभर में डेढ़ करोड़ से ज्यादा लोगों को घर मिल चुके हैं और सरकार का प्रयास है कि 2022 तक हर एक गरीब का अपना घर हो। श्री मोदी ने कहा, "आज ईज ऑफ डूइंग बिजनेस में भारत ने फिर से लंबी छलांग लगाई है। भारत जैसा बड़ा देश लगातार तीन बार प्रगति करता रहे, ऐसा वर्ल्ड बैंक के इतिहास में पहली बार हुआ है।"

पीएम मोदी ने कहा कि जब वे जनता जनार्दन का दर्शन करते हैं, कार्यकर्ताओं और सरकारी कर्मचारियों को काम करते हुए देखते हैं, तो उन्हें भी उससे नई ताकत मिलती है और यही उनकी ऊर्जा का रहस्य है। उन्होंने कहा, "हमने सिंगल यूज प्लास्टिक को खत्म करने का अभियान चलाया है। देशवासियों ने सिंगल यूज प्लास्टिक से देश को मुक्त करने की ठान ली है। हमें इस काम को आगे बढ़ाना है।"

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि स्वच्छता कोई प्रोजेक्ट नहीं है, बल्कि यह एक आदत है जो जीवनभर के लिए होती है। उन्होंने कहा, ‘’2014 में 40 फीसदी से भी कम लोगों के पास टॉयलेट था। पिछले 60 महीने में देश के 60 करोड़ लोगों ने इज्जत घर का लाभ उठाया है और इससे बहुत संतोष होता है। मुझे बताया गया है कि वाराणसी के सभी 90 वार्ड खुले में शौच से मुक्त हो चुके हैं।‘’

पीएम मोदी ने कहा कि दुनिया में जहां भी उनका सम्मान होता है, वो प्रधानमंत्री का नहीं, बल्कि 130 करोड़ हिन्दुस्तानियों का सम्मान होता है, वे तो एक निमित्त मात्र हैं।

पूरा भाषण पढ़ने के लिए यहां क्लिक कीजिए

प्रधानमंत्री मोदी के साथ परीक्षा पे चर्चा
Explore More
'चलता है' नहीं बल्कि बदला है, बदल रहा है, बदल सकता है... हम इस विश्वास और संकल्प के साथ आगे बढ़ें: पीएम मोदी

लोकप्रिय भाषण

'चलता है' नहीं बल्कि बदला है, बदल रहा है, बदल सकता है... हम इस विश्वास और संकल्प के साथ आगे बढ़ें: पीएम मोदी
Oxygen Express trains so far delivered 2,067 tonnes of medical oxygen across India

Media Coverage

Oxygen Express trains so far delivered 2,067 tonnes of medical oxygen across India
...

Nm on the go

Always be the first to hear from the PM. Get the App Now!
...
सोशल मीडिया कॉर्नर 6 मई 2021
May 06, 2021
साझा करें
 
Comments

PM Narendra Modi reviews various aspects of the COVID-19 response in the states and districts

India is on the move under the leadership of Modi Govt