साझा करें
 
Comments
उडुपी क्षेत्र प्राकृतिक रूप से तटीय मैदानी क्षेत्र है, फिर भी कांग्रेस इस क्षेत्र में विकास करने में नाकाम रही: प्रधानमंत्री मोदी
कांग्रेस द्वारा श्री देवेगौड़ा जी का अपमान स्वीकार्य नहीं है, अगर ये उनकी मानसिकता है, तो वे कर्नाटक के लोगों के लिए अच्छा कैसे सोच सकते हैं: पीएम मोदी
कांग्रेस ने गरीबों के लिए बैंकिंग योजनाओं पर राजनीति की: प्रधानमंत्री
हम कर्नाटक के लोगों की आकांक्षाओं को पूरा करने के लिए कोई कसर नहीं छोड़ेंगे और राज्य का समुचित विकास सुनिश्चित करेंगे: प्रधानमंत्री मोदी
मेरे और उडुपी के लोगों के बीच ऐसा प्यार है जहां भाषा हमारे बीच कोई बाधा नहीं है: पीएम मोदी
28 अप्रैल 2018 को हमेशा भारत के इतिहास में याद किया जाएगा। लोगों के प्रयासों के परिणामस्वरूप भारत के गांवों को बिजली मिली: प्रधानमंत्री
कांग्रेस के नेता भारत के इतिहास का सम्मान नहीं करते। मैं चौंक गया कि वे 'वंदे मातरम्' का अपमान करने के स्तर पर भी चले गए: प्रधानमंत्री मोदी
कांग्रेस ने बिजली के उपयोग की कमी वाले 18,000 गांवों के बारे में क्यों नहीं सोचा: पीएम मोदी
बीजेपी कर्नाटक के गौरव, राज्य के विकास पर ध्यान केंद्रित कर रही है। हम एक स्वच्छ, सुंदर और सुरक्षित कर्नाटक चाहते हैं: प्रधानमंत्री
कर्नाटक सरकार ने कर्नाटक के किसानों के लिए कुछ भी नहीं किया। उन्होंने किसानों को उचित सिंचाई सुविधाएं क्यों नहीं मुहैया कराईं: प्रधानमंत्री मोदी
कांग्रेस ने 60 साल की पुरानी बीमारी पीछे छोड़ी है और हम देश को इस बिमारी से छुटकारा दिलाने के लिए कड़ी मेहनत कर रहे हैं: पीएम मोदी
गांवों, किसानों और गरीबों को सशक्त बनाना हमारा एकमात्र लक्ष्य है: प्रधानमंत्री
जैसे मछली पानी के बिना जीवित नहीं रह सकती है, कांग्रेस सत्ता के बिना नहीं रह सकती है। यही कारण है कि वे झूठ फैल रहे हैं: प्रधानमंत्री मोदी

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कर्नाटक के चामराजनगर, उडुपी और बेलागावी में तीन जनसभाओं को संबोधित किया। इन जनसभाओं में उन्हें सुनने के लिए जबरदस्त भीड़ उमड़ी थी। चामराजनगर जिले में पहली जनसभा में पीएम मोदी ने कहा कि केंद्र सरकार कर्नाटक के विकास के लिए कटिबद्ध है और केंद्र की तरफ से राज्य में 80,000 करोड़ की विकास योजनाएं चलाई जा रही हैं।

श्री मोदी ने कहा कि 28 अप्रैल को 18,000 गांवों में बिजली पहुंचने के साथ ही देश के सभी गांवों में बिजली पहुंचाने का काम पूरा हो गया है। इस अवसर पर प्रधानमंत्री ने बताया कि 2014 में कर्नाटक में 39 गांव ऐसे थे, जहां बिजली नहीं पहुंची थी, लेकिन केंद्र सरकार की इस योजना के तहत इन सभी गांवों में भी बिजली पहुंच गई है। उन्होंने 2005 में पूर्व प्रधानमंत्री डॉक्टर मनमोहन सिंह के देश के सभी गांवों में 2009 तक बिजली पहुंचाने के दावे का भी जिक्र किया और कहा कि 2014 तक भी ऐसा नहीं हो सका था।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि केंद्र सरकार 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करने के लक्ष्य को पाने के लिए योजनाबद्ध तरीके से काम कर रही है। किसान और कृषि से जुड़ी हर छोटी-बड़ी आवश्यकताओं पर ध्यान दिया जा रहा है। केंद्र सरकार किसानों के कल्याण के लिए कई योजनाएं चला रही है। उन्होंने कहा कि पहले यूरिया की कालाबाजारी होती थी, लेकिन सरकार ने यूरिया की नीम कोटिंग कर दी, इससे यूरिया की कालाबाजारी रुक गई और किसानों की परेशानी खत्म हुई। प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के जरिए सरकार प्राकृतिक आपदाओं, बाढ़, बारिश, ओले से किसानों को होने वाले फसल के नुकसान की भरपाई कर रही है। कर्नाटक के 14 लाख से अधिक किसानों ने इसका फायदा उठाया है और क्लेम की राशि भी दोगुनी हो गई है, जिसे किसानों को दिया गया है। फसल बीमा के तहत व्यवस्था की गई है कि अगर फसल पकने के बाद कटा हुआ माल खेत में पड़ा है और कोई प्राकृतिक आपदा आ जाती है, तो 15 दिनों तक फसल बीमा का लाभ दिया जाएगा। पीएम मोदी ने बताया कि किसानों को फसल का सही दाम मिले इसलिए नई एमएसपी की योजना घोषित की गई है, जिसके तहत किसानों की लागत का डेढ़ गुना एमएसपी घोषित किया जाएगा, ताकि किसानों को कोई लूट न पाए। केंद्र सरकार ने पूरे देश में पानी से जुड़ी एक लाख करोड़ की 99 परियोजनाएं शुरू की हैं, कर्नाटक में भी ऐसी 5 योजनाओं पर काम शुरू किया गया है, ताकि हर खेत तक पानी पहुंचाया जाए।

जनसभा को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि आजादी के इतने वर्षों बाद भी देश की बड़ी आबादी बैंकिंग व्यवस्था से दूर थी, केंद्र सरकार ने प्रधानमंत्री जन-धन योजना के माध्यम से देश के गरीबों को जीरो बैलेंस खाते खुलवाए। आज 31 करोड़ से अधिक जन-धन खातों में गरीबों ने बचत का 80 हजार करोड़ रुपया जमा किया है। पीएम मोदी ने बताया कि केंद्र सरकार ने पहली बार बैगर किसी गारंटी के बैंकों का पैसा नौजवानों को उन्हें अपने पैरों पर खड़ा करने के लिए दिया है। प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के तहत देश में लगभग 12 करोड़ लोन स्वीकृत हुए हैं और नौजवानों को करीब 4 लाख करोड़ से अधिक रकम ऋण के तौर पर दी गई है। इस योजना के तहत अकेले कर्नाटक में सवा करोड़ लोन स्वीकृत हुए हैं।

प्रधानमंत्री मोदी ने उडुपी में जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि उडुपी में नौजवान बहुत होनहार हैं, हमेशा परीक्षा में अच्छा प्रदर्शन करते हैं, लेकिन विकास नहीं होने की वजह से उन्हें रोजगार के लिए दूसरे शहरों में जाना पड़ता है। कर्नाटक में भाजपा की सरकार आने पर उडुपी का विकास किया जाएगा और नौजवानों को यहीं रोजगार के साधन उपलब्ध कराए जाएंगे। पीएम मोदी ने कहा कि कर्नाटक के पास समृद्ध तटीय क्षेत्र है, केंद्र सरकार तटीय विकास की पक्षधर है। सागरमाला परियोजना के तहत तटीय इलाकों के विकास का काम किया जा रहा है। उडुपी के आस-पास रेलवे के दो स्टेशन का काम जल्द ही पूरा होने वाला है। इसी प्रकार उडुपी में रेलवे लाइन के विद्युतीकरण का काम तेज गति से चल रहा है। उडुपी को इन्फ्रास्ट्रक्चर के द्वारा देश से जोड़ना सरकार की प्राथमिकता है। भारतमाला प्रोजेक्ट के तहत अगले दो वर्षों में लगभग 1.5 लाख करोड़ रुपये का निवेश किया जाना है, इससे नौजवानों को रोजगार के अवसर मिलेंगे। केंद्र की तरफ से 7,000 करोड़ की लागत से बेंगलुरु-मैसुरु एक्सप्रेस वे बनाया जा रहा है। प्रधानमंत्री ने कहा कि विकास की यात्रा में चाहे रेल, रोड, समुद्री तट हो या फिर किसान के खेत का काम हो, हर क्षेत्र में केंद्र सरकार सामान्य लोगों के जीवन में खुशहाली लाने का काम कर रही है।

पीएम मोदी ने जनसभा में मौजूद लोगों से कहा कि 12 मई को कर्नाटक के भविष्य का फैसला करना है। 12 मई का फैसला ईमानदारी की तरफ जाने वाला रास्ता खोलेगा और भ्रष्टाचारियों को सजा दिलाने की मुहिम को ताकत देने वाला होगा। श्री मोदी ने लोगों से मतदान के दिन कर्नाटक के स्वाभिमान, कर्नाटक के भविष्य और कर्नाटक के विकास के लिए भाजपा को वोट देने की अपील की। उन्होंने कहा कि कर्नाटक में भाजपा की सरकार बनने पर केंद्र सरकार कर्नाटक की आशाओं, अपेक्षाओं को पूरा करने के लिए एड़ी-चोटी का जोर लगा देगी।

 

 

Click here to read PM's speech in Chamrajnagar

Click here to read PM's speech in Udupi 

 

प्रधानमंत्री मोदी के ‘मन की बात’ कार्यक्रम के लिए भेजें अपने विचार एवं सुझाव
मोदी सरकार के #7YearsOfSeva
Explore More
'चलता है' नहीं बल्कि बदला है, बदल रहा है, बदल सकता है... हम इस विश्वास और संकल्प के साथ आगे बढ़ें: पीएम मोदी

लोकप्रिय भाषण

'चलता है' नहीं बल्कि बदला है, बदल रहा है, बदल सकता है... हम इस विश्वास और संकल्प के साथ आगे बढ़ें: पीएम मोदी
With 2.5 crore jabs on PM’s birthday, India sets new record for Covid-19 vaccines

Media Coverage

With 2.5 crore jabs on PM’s birthday, India sets new record for Covid-19 vaccines
...

Nm on the go

Always be the first to hear from the PM. Get the App Now!
...
PM expresses gratitude to President, VP and other world leaders for birthday wishes
September 17, 2021
साझा करें
 
Comments

The Prime Minister, Shri Narendra Modi has expressed his gratitude to the President, Vice President and other world leaders for birthday wishes.

In a reply to President, the Prime Minister said;

"माननीय राष्ट्रपति महोदय, आपके इस अनमोल शुभकामना संदेश के लिए हृदय से आभार।"

In a reply to Vice President, the Prime Minister said;

"Thank you Vice President @MVenkaiahNaidu Garu for the thoughtful wishes."

In a reply to President of Sri Lanka, the Prime Minister said;

"Thank you President @GotabayaR for the wishes."

In a reply to Prime Minister of Nepal, the Prime Minister said;

"I would like to thank you for your kind greetings, PM @SherBDeuba."

In a reply to PM of Sri Lanka, the Prime Minister said;

"Thank you my friend, PM Rajapaksa, for the wishes."

In a reply to PM of Dominica, the Prime Minister said;

"Grateful to you for the lovely wishes, PM @SkerritR."

In a reply to former PM of Nepal, the Prime Minister said;

"Thank you, Shri @kpsharmaoli."