साझा करें
 
Comments
प्रधानमंत्री मोदी ने जम्मू-कश्मीर के लिए 80,000 करोड़ रुपये के विकास पैकेज की घोषणा की
भारत सरकार ने जम्मू-कश्मीर में बाढ़ राहत, पुनर्निर्माण और बाढ़ प्रबंधन के लिए 7854 करोड़ रुपये के पैकेज की घोषणा की
भारत सरकार ने जम्मू-कश्मीर में सड़क और राजमार्ग परियोजनाओं के लिए 42,611 करोड़ रुपये की घोषणा की
भारत सरकार ने जम्मू-कश्मीर में स्वास्थ्य के लिए 4900 करोड़ रुपये, बिजली, नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा के लिए 11,708 करोड़ रुपये की घोषणा की
भारत सरकार ने जम्मू-कश्मीर में मानव संसाधन विकास, कौशल विकास और खेल के लिए 2600 करोड़ आवंटित किये
भारत सरकार ने जम्मू-कश्मीर में पर्यटन के लिए 2241 करोड़ रुपये और कृषि एवं खाद्य प्रसंस्करण के लिए 529 करोड़ रुपये आवंटित किये
भारत सरकार ने जम्मू-कश्मीर में शहरी विकास के लिए 2312 करोड़ रुपये आवंटित किये
भारत सरकार ने जम्मू-कश्मीर में विस्थापित लोगों की सुरक्षा और कल्याण के लिए 5263 करोड़ रुपये आवंटित किये
भारत सरकार ने जम्मू-कश्मीर में पश्मीना संवर्धन परियोजना के लिए 50 करोड़ रुपये आवंटित किये

प्रधानमंत्री श्री नरेन्‍द्र मोदी ने आज जम्‍मू और कश्‍मीर के लिए 80 हजार करोड़ रुपए के विकास पैकेज की घोषणा की। पैकेज की प्रमुख विशेषताएं इस प्रकार है:

बाढ़ राहत पुनर्निमाण एवं बाढ़ प्रबंधन-7854 करोड़

इसमें ध्‍वस्‍त मकानों के पुनर्निमाण एवं बुनियादी ढांचे के पुनर्गठन के लिए लोगों की मदद के लिए ; व्‍यापारियों एवं छोटे व्‍यावसायियों की आजीविका को बहाल करने के लिए ; झेलम नदी एवं उसकी सहायक नदियों के लिए व्‍यापक बाढ़ प्रबंधन योजना के लिए ; एवं झेलम तवी बाढ़ पुनर्गठन परियोजना के लिए मौद्रिक सहायता शामिल है।

सड़क एवं राजमार्ग परियोजनाएं- 42611 करोड़ रुपए

इसमें जोजिला दर्रा का निर्माण ; जम्‍मू एवं श्रीनगर में सेमी रिंग रोड ; बेहतर संपर्क के लिए भारत माला के तहत परियोजनाएं ; एवं महत्‍वपूर्ण राजमार्गों के उन्‍नयन और राज्‍य में अन्‍य परियोजनाएं शामिल हैं। 

बिजली, नवीन तथा नवीकरणीय ऊर्जा-11708 करोड़ रूपए

इसमें बिजली बुनियादी ढांचा एवं वितरण प्रणालियों ; सौर ऊर्जा ; लघु पन-बिजली परियोजनाओं का संवर्द्धन शामिल है।

स्‍वास्‍थ्‍य- 4900 करोड़ रुपए

इसमें राज्‍य के राजधानी नगरों में एम्‍स जैसे दो संस्‍थानों का निर्माण, अस्‍पतालों एवं प्राथमिक स्‍वास्‍थ्‍य केंद्रों में बुनियादी ढांचे के सृजन के लिए समर्थन शामिल है।

मानव संसाधन विकास, कौशल विकास एवं खेल – 2600 करोड़ रुपए

इसमें जम्‍मू में आईआईटी एवं आईआईएम की स्‍थापना ; अगले पांच वर्षों के दौरान एक लाख युवकों को प्रशिक्षित करने के लिए हिमायत योजना के तहत प्रयासों में तेजी, एवं खेल बुनियादी ढांचे का संवर्द्धन शामिल है।

कृषि एवं खाद्य प्रसंस्‍करण -529 करोड़

इसमें बागवानी एवं शीत भंडारण सुविधाओं के सृजन के लिए समर्थन शामिल है।

पर्यटन- 2241 करोड़ रुपए

इसमें नई परियोजनाओं और पर्यटन परिपथों और 50 पर्यटन गांवों की स्‍थापना शामिल है।

शहरी विकास-2312 करोड़ रुपए

इसमें स्‍मार्ट सिटी एवं स्‍वच्‍छ भारत अभियानों के तहत ; एवं जम्‍मू एवं कश्‍मीर शहरों में बुनियादी ढांचे के लिए राशि शामिल है।

सुरक्षा एवं विस्‍थापित लोगों के कल्याण- 5263 करोड़ रुपए

इसमें कश्‍मीरी प्रवासियों के लिए रोजगार, छंब एवं पीओके के परिवारों के पुनर्वास, मकानों के निर्माण एवं पांच इंडिया रिजर्व बटालियनों की स्‍थापना के लिए राशि शामिल है। इंडिया रिजर्व बटालियन जम्‍मू और कश्‍मीर के युवकों के लिए 4 हजार रोजगारों का सृजन करेंगे।

पशमीना संवर्द्धन परियोजना- 50 करोड़ रुपए

कुल पैकेज राशि- 80,068 करोड़ रुपए

यह राशि प्रधानमंत्री राष्‍ट्रीय राहत कोष के तहत 837 करोड़ रुपए और पिछले वर्ष की बाढ़ के बाद राज्‍य को दिए गए एक हजार करोड़ रुपए समेत पहले प्रतिबद्ध राशियों के अतिरिक्‍त है।

प्रधानमंत्री मोदी के ‘मन की बात’ कार्यक्रम के लिए भेजें अपने विचार एवं सुझाव
20 Pictures Defining 20 Years of Seva Aur Samarpan
Explore More
हमारे जवान मां भारती के सुरक्षा कवच हैं : नौशेरा में पीएम मोदी

लोकप्रिय भाषण

हमारे जवान मां भारती के सुरक्षा कवच हैं : नौशेरा में पीएम मोदी
PM Narendra Modi had turned down Deve Gowda's wish to resign from Lok Sabha after BJP's 2014 poll win

Media Coverage

PM Narendra Modi had turned down Deve Gowda's wish to resign from Lok Sabha after BJP's 2014 poll win
...

Nm on the go

Always be the first to hear from the PM. Get the App Now!
...
We jointly recall and celebrate foundations of our 50 years of India-Bangladesh friendship: PM
December 06, 2021
साझा करें
 
Comments

The Prime Minister, Shri Narendra Modi has said that we jointly recall and celebrate the foundations of our 50 years of India-Bangladesh friendship.

In a tweet, the Prime Minister said;

"Today India and Bangladesh commemorate Maitri Diwas. We jointly recall and celebrate the foundations of our 50 years of friendship. I look forward to continue working with H.E. PM Sheikh Hasina to further expand and deepen our ties.