Gujarat wins Most Competitive State award

Published By : Admin | November 5, 2013 | 11:58 IST

The State Competitiveness Report is a joint effort by MintAsia, a publication of the Hindustan Times Group and the Institute of Competitiveness. It measures and ranks the states of the country on parameters that are critical for the Indian Economy.

Factors like availability of land, labour and capital, the role played by the Government in facilitating businesses and the profile of consumers in the state were considered, and a state competitiveness index was created. In this report, Gujarat was classified as an innovation driven economy, with hubs of industrial activity.

Vice President of India Hamid Ansari presented this award in New Delhi where it was received by the Resident Commissioner of Gujarat.

The article is originally published in The Gujarat (Magazine), Vol-III, Issue-4.

Explore More
अमृतकाल में त्याग और तपस्या से आने वाले 1000 साल का हमारा स्वर्णिम इतिहास अंकुरित होने वाला है : लाल किले से पीएम मोदी

लोकप्रिय भाषण

अमृतकाल में त्याग और तपस्या से आने वाले 1000 साल का हमारा स्वर्णिम इतिहास अंकुरित होने वाला है : लाल किले से पीएम मोदी
Budget positions India as tech-driven, knowledge-driven economy

Media Coverage

Budget positions India as tech-driven, knowledge-driven economy
NM on the go

Nm on the go

Always be the first to hear from the PM. Get the App Now!
...
25वें कारगिल विजय दिवस के अवसर पर 26 जुलाई को प्रधानमंत्री कारगिल का दौरा करेंगे
July 25, 2024
रणनीतिक शिंकुन ला सुरंग परियोजना का पहला विस्फोट करेंगे
यह परियोजना लेह को सभी मौसमों में कनेक्टिविटी प्रदान करेगी
निर्माण कार्य पूरा होने पर यह विश्व की सर्वाधिक ऊंची सुरंग होगी

26 जुलाई, 2024 को 25वें कारगिल विजय दिवस के अवसर पर, प्रधानमंत्री श्री नरेद्र मोदी सुबह लगभग 9:20 बजे कारगिल युद्ध स्मारक का दौरा करेंगे। वे करगिल युद्ध के दौरान प्राणों की आहुति देने वाले शहीद वीरों को श्रद्धांजलि अर्पित करेंगे। प्रधानमंत्री वर्चुअल रूप से शिंकुन ला सुरंग परियोजना का पहला विस्फोट भी करेंगे।

शिंकुन ला सुरंग परियोजना में 4.1 किलोमीटर लंबी ट्विन-ट्यूब सुरंग शामिल है, जिसका निर्माण निमू-पदुम-दारचा रोड पर लगभग 15,800 फीट की ऊंचाई पर किया जाएगा, ताकि लेह को हर मौसम में कनेक्टिविटी प्रदान की जा सके। निर्माण कार्य पूरा होने पर यह विश्व की सर्वाधिक ऊंची सुरंग होगी। शिंकुन ला सुरंग न केवल हमारे सशस्त्र बलों और उपकरणों की तीव्र और कुशल आवाजाही सुनिश्चित करेगी, बल्कि लद्दाख में आर्थिक और सामाजिक विकास को भी बढ़ावा देगी।