साझा करें
 
Comments
"Narendra Modi addresses round of Bharat Vijay Rallies via 3D technology"
"Narendra Modi urges people of India to vote in large numbers"
"Delhi needs a strong government and an end to the politics of jod-tod: Narendra Modi"
"Time to reject a government that is not bothered about the people: Narendra Modi"

बुधवार 23 अप्रैल 2014 की शाम को श्री नरेन्द्र मोदी ने भारत विजय रैली के एक और दौर में 3-डी तकनीक के माध्यम से भारत भर के लोगों को संबोधित किया। श्री मोदी ने भारतवासियों से आग्रह किया कि वो एक मजबूत सरकार को चुनें जो एक भव्य और दिव्य भारत का आधार तैयार कर सके और हमारे युवाओं की आकांक्षाओं को पूरा कर सके। श्री मोदी ने आश्वस्त किया कि पहले चरण के मतदान से यह स्पष्ट हो चुका है कि कांग्रेस की विदाई अब निश्चित है और अब लोगों का सारा ध्यान एक मजबूत और स्थिर सरकार के चुनाव की स्थापना पर है जो भारत के भविष्य की ओर देख सके।

श्री मोदी ने बताया कि एक बहुत लंबे समय तक 'जोङ-तोङ' की राजनीति बनी रही है और इसने बहुत सी बङी-बङी समस्याओं को जन्म दिया है। उन्होंने कहा "इस तरह की राजनीति को अब बंद कर देना चाहिए। कभी सीबीआई का दुरुपयोग किया जा रहा है और कभी अन्य तरकीबें इस्तेमाल की जा रही हैं। यह समय आ गया है कि इन शर्मनाक कृत्यों को रोका जाए। हमें एक मजबूत सरकार का चुनाव करना चाहिए, जो जोङ-तोङ की राजनीति पर निर्भर न हो।

अपने भाषण में श्री मोदी ने कांग्रेस के नेतृत्व वाली यूपीए सरकार पर हमला किया और कहा कि वे लोगों के भविष्य के बारे में परवाह नहीं कर रहे हैं, और कहा कि संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन राष्ट्र को आगे नहीं ले जा सकता है। उन्होंने उन लोगों को नकारा बताया जो कहते रहते हैं कि कुछ भी संभव नहीं है, और कहा कि यह समाज में सकारात्मक बदलाव लाना संभव है। श्री मोदी ने 2001 में एक विनाशकारी भूकंप को याद किया जिसने गुजरात को बर्बाद कर दिया पर इसने एक छोटी सी अवधि में अपने आप को विनाश की ट्रेन से बाहर निकाल लिया और आलोचकों को गलत साबित कर दिया। उन्होंने उन कठिन परिस्थितियों की चर्चा की, जब अक्टूबर 2001 में उन्होंने गुजरात के मुख्यमंत्री के रूप में पदभार संभाल लिया और गुजरात भूकंप के विनाश से ऊपर उठा और इसने प्रगति की नई ऊंचाइयों को छुआ।

श्री मोदी ने महिलाओं की सुरक्षा पर कांग्रेस के निराशाजनक रिकार्ड के लिए उन पर हमला किया। "कांग्रेस का महिला सशक्तिकरण और महिला सुरक्षा के बारे में बात करना उचित नहीं लगता है," उन्होंने तंदूर मामले से लेकर लातूर में हुए हाल के प्रकरण की चर्चा करते हुए महिलाओं के प्रति कांग्रेस के दृष्टिकोण का इतिहास बताया। उन्होंने पूछा कि कांग्रेस द्वारा शासित राज्यों में महिलाएँ असुरक्षित क्यों हैं? कांग्रेस के कुशासन का जिक्र करते हुए उन्होंने बताया कि कैसे यूपीए ने 20 सूत्री कार्यक्रम के मूल्यांकन को बंद कर दिया जब उन्हों समझ में आया कि इसके निष्पादन में शीर्ष प्रदर्शन राज्यों की सूची में यूपीए शासित राज्यों का स्थान बहुत नीचे है। उन्होंने यह भी कहा कि कांग्रेस पार्टी के नेता कैसे गरीबों का मखौल उङाते हैं।

श्री मोदी को 3-डी रैलियों के दौरान सुनने के लिए भारत के कई राज्यों में लाखों लोग विभिन्न जगहों पर एकत्र हुए। 3-डी रैलियाँ भारत भर में लोगों के साथ जुङने का श्री मोदी द्वारा अपनाया गया एक ऐतिहासिक माध्यम है।

प्रधानमंत्री मोदी के ‘मन की बात’ कार्यक्रम के लिए भेजें अपने विचार एवं सुझाव
प्रधानमंत्री ने ‘परीक्षा पे चर्चा 2022’ में भाग लेने के लिए आमंत्रित किया
Explore More
काशी विश्वनाथ धाम का लोकार्पण भारत को एक निर्णायक दिशा देगा, एक उज्ज्वल भविष्य की तरफ ले जाएगा : पीएम मोदी

लोकप्रिय भाषण

काशी विश्वनाथ धाम का लोकार्पण भारत को एक निर्णायक दिशा देगा, एक उज्ज्वल भविष्य की तरफ ले जाएगा : पीएम मोदी
30 years of Ekta Yatra: A walk down memory lane when PM Modi unfurled India’s tricolour flag at Lal Chowk in Srinagar

Media Coverage

30 years of Ekta Yatra: A walk down memory lane when PM Modi unfurled India’s tricolour flag at Lal Chowk in Srinagar
...

Nm on the go

Always be the first to hear from the PM. Get the App Now!
...
प्रधानमंत्री ने भारत के 73वें गणतंत्र दिवस पर शुभकामनाओं के लिए दुनिया के नेताओं को धन्यवाद दिया
January 26, 2022
साझा करें
 
Comments

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने भारत के 73वें गणतंत्र दिवस पर शुभकामनाओं के लिए दुनियाभर के नेताओं को धन्यवाद दिया है।

नेपाल के प्रधानमंत्री के एक ट्वीट के जवाब में पीएम ने कहा;

'आपके गर्मजोशी भरे अभिनंदन के लिए धन्यवाद पीएम शेर बहादुर देउबा। हमारी सदियों पुरानी मित्रता को और मजबूती देने के लिए हम मिलकर काम करना जारी रखेंगे।'

भूटान के पीएम के एक ट्वीट के जवाब में प्रधानमंत्री ने कहा;

'भारत के गणतंत्र दिवस पर हार्दिक शुभकामनाओं के लिए भूटान के प्रधानमंत्री को धन्यवाद। भारत भूटान के साथ अपनी अनूठी और पुरानी मित्रता को बहुत महत्व देता है। भूटान की सरकार और वहां के लोगों को ताशी डेलेक। हमारे संबंध और मजबूत बनें।'

श्रीलंका के पीएम के एक ट्वीट के जवाब में प्रधानमंत्री ने कहा;

'धन्यवाद प्रधानमंत्री राजपक्षे। यह साल विशेष है क्योंकि दोनों देश अपनी स्वतंत्रता के 75 साल पूरे होने का जश्न मना रहे हैं। हमारे लोगों के बीच संबंध और मजबूत हों, यही कामना है।'

इजराइल के पीएम के एक ट्वीट के जवाब में प्रधानमंत्री ने कहा;

'पीएम नफ्ताली बेनेट, भारत के गणतंत्र दिवस पर शुभकामनाओं के लिए आपका धन्यवाद। मुझे पिछले साल नवंबर में हुई मुलाकात याद है। मुझे विश्वास है कि भारत-इजराइल रणनीतिक साझेदारी भविष्य में भी आगे बढ़ती रहेगी।'