मुस्लिम उलेमाओं, प्रबुद्धों और शिक्षकों के प्रतिनिधिमंडल ने प्रधानमंत्री से मुलाक़ात की
मुस्लिम उलेमाओं, प्रबुद्धों और शिक्षकों के प्रतिनिधिमंडल ने भ्रष्टाचार और काले धन के खिलाफ प्रधानमंत्री के अभियानों का समर्थन किया
देश के युवाओं ने कट्टरता का मुंहतोड़ जवाब दिया: प्रधानमंत्री
भारत की संस्कृति, परम्परा और सामाजिक तानाबाना कभी भी आतंकियों और उनके समर्थकों को सफल नहीं होने देगा: प्रधानमंत्री

मुस्लिम उलेमाओं, बुद्धिजीवियों और शिक्षाविदों के प्रतिनिधिमंडल और गणमान्‍य व्‍यक्तियों ने प्रधानमंत्री श्री नरेन्‍द्र मोदी से मुलाकात की। प्रतिनिधिमंडल के सदस्‍यों ने अल्‍पसंख्‍कों सहित समाज के सभी वर्गों के समावेशी विकास, सामाजिक-आर्थिक और शैक्षिक सशक्‍तीकरण की दिशा में केन्‍द्र सरकार द्वारा उठाए गये कदमों के लिए प्रधानमंत्री को बधाई दी।

प्रतिनिधिमंडल ने भारत के हज यात्रियों की संख्‍या बढ़ाने के लिए सऊदी सरकार के निर्णय की सराहना की और इस मामले को सफलतापूर्वक उठाने के लिए प्रधानमंत्री को धन्‍यवाद दिया।

प्रतिनिधिमंडल ने एक स्‍वर से भ्रष्‍टाचार और काला धन के विरूद्ध प्रधानमंत्री द्वारा शुरू किए गये अभियान का जोरदार समर्थन किया। प्रतिनिधिमंडल ने इस बात पर सहमति व्‍यक्‍त की कि भ्रष्‍टाचार के विरूद्ध लड़ाई से सर्वाधिक अल्‍पसंख्‍यकों सहित गरीब व्‍यक्ति लाभान्वित होंगे।

प्रतिनिधिमंडल ने विश्‍व भर के देशों के साथ संबंधों को मजबूत करने के लिए प्रधानमंत्री द्वारा किए गये प्रयासों के लिए उन्‍हें बधाई दी और कहा कि आज विश्‍व के प्रत्‍येक कोने में रहने वाला प्रत्‍येक भारतीय गर्व का अनुभव कर रहा है।

प्रतिनिधिमंडल के सदस्‍यों ने स्‍वच्‍छ भारत की दिशा में प्रधानमंत्री के प्रयासों के लिए भी उनकी प्रशंसा की।

प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत के युवाओं ने कट्टरता का सफलतापूर्वक प्रतिरोध किया है, जिसने विश्‍व के कई हिस्‍सों को प्रभावित किया है। उन्‍होंने कहा कि हमारी जनता के दीर्घकालिक, साझा विरासत को इसका श्रेय मिलना चाहिए। उन्‍होंने कहा कि इस विरासत को आगे बढ़ाना हमारा सामूहिक उत्‍तरदायित्‍व है। प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत की संस्‍कृति, परंपरा और इसका सामाजिक ताना-बाना कभी भी आतंकवादियों अथवा उनके प्रयोजकों के कुत्सित मंसूबे को कामयाब नहीं होने देंगे। प्रधानमंत्री ने शिक्षा और कौशल विकास पर जोर दिया, जो लाभदायक रोजगार तथा गरीबी से उत्‍थान का माध्‍यम है।

भारत के हज यात्रियों की संख्‍या को बढ़ाने से संबंधित सऊदी अरब सरकार के निर्णय की सराहना करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि विदेश में भारतीय मुसलमानों की सकारात्‍मक छवि है।

प्रतिनिधिमंडल के सदस्‍यों में इमाम उमर अहमद इलियासी (अखिल भारतीय मस्जिद इमाम संगठन के भारत में मुख्‍य इमाम), ले. जन. (सेवानिवृत्‍त) जमीरूद्दीन शाह (कुलपति, अलीगढ़ मुस्लिम विश्‍वविद्यालय), एम. वाई. इकबाल (पूर्व न्‍यायाधीश, सर्वोच्‍च न्‍यायालय), तलत अहमद (कुलपति, जामिया मिलिया इस्‍लामिया), और शाहिद शिदि्दकी (उर्दू पत्रकार) शामिल थे।

इस अवसर पर केन्‍द्रीय अल्‍पसंख्‍यक कार्य (स्‍वतंत्र प्रभार) और संसदीय कार्य राज्‍यमंत्री श्री मुख्‍तार अब्‍बास नकवी और केन्‍द्रीय विदेश राज्‍यमंत्री श्री एम. जे. अकबर भी उपस्थित थे।

Explore More
अमृतकाल में त्याग और तपस्या से आने वाले 1000 साल का हमारा स्वर्णिम इतिहास अंकुरित होने वाला है : लाल किले से पीएम मोदी

लोकप्रिय भाषण

अमृतकाल में त्याग और तपस्या से आने वाले 1000 साल का हमारा स्वर्णिम इतिहास अंकुरित होने वाला है : लाल किले से पीएम मोदी
From Kashmir to Kota, India’s riverfronts are getting a makeover

Media Coverage

From Kashmir to Kota, India’s riverfronts are getting a makeover
NM on the go

Nm on the go

Always be the first to hear from the PM. Get the App Now!
...
सोशल मीडिया कॉर्नर 20 फ़रवरी 2024
February 20, 2024

Vikas Bhi, Virasat Bhi under the Leadership of PM Modi