ಶೇರ್
 
Comments
This government has worked tirelessly over the past five years to ensure inclusive and rapid development for all: PM Modi in Odisha
The Opposition parties especially the Congress and BJD have entirely failed the people of Odisha through their ineffective governance and endemic corruption: PM Modi
The BJP is fully committed to making Odisha one of India’s most developed states: Prime Minister Modi

जय जगन्नाथ, जय जगन्नाथ, जय श्री बलदेव महाप्रभु, जय श्री बलदेव महाप्रभु

यहां जगतपुर और जाजपुर से भी अनेक साथी आए हैं। आपका भी बहुत-बहुत अभिनंदन, मैं केन्द्रापड़ा को गौरवान्वित करने वाले हर महान व्यक्ति को नमन करता हूं। भगवान जगन्नाथ के आशीर्वाद से आप इस बार नए भारत की दिशा तय करने में बहुत ही महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले हैं। आप जैसा स्नेह ही मुझे ओडिशा के कोने-कोने में देश के कोने-कोने में देखने को मिल रहा है। इस आशीर्वाद के लिए, इस विश्वास के लिए मैं आपका ह्रदय से आभारी हूं। मैं भी आज सुबह गुजरात के अहमदाबाद में मेरा वोट डालने गया था और आपके पास वोट डालकर के पहुंचा हूं। कितना ही काम हो, कितनी ही जिम्मेदारी हो, कैसी भी परिस्थिति हो, लेकिन वोट डालना एक कर्तव्य भी है और सौभाग्य भी है। भाइयो-बहनो, ये विराट जनसागर और जितने लोग यहां हैं उससे डबल हेलीपैड पर खड़े हैं। ये आपका आशीर्वाद और मुझे लगता है कि दो चरण के बाद ये जो लहर है ये लहर अब विरोधियों के लिए ललकार बन गई है। ये लहर नहीं ललकार है फिर एक बार मोदी सरकार है। ये लहर नहीं ललकार है फिर एक बार मोदी सरकार है। भाइयो-बहनो, 2014 में भी इतना प्यार इतना स्नेह मेरे नसीब नहीं हुआ था जो इस बार हुआ है।

ओडिशा में आज चुनाव अभियान का मेरा आखिरी दिन है। उसके बाद नई सरकार बनने के बाद मेरा आना होगा। भाइयो- बहनो, मुझे लगता है कि ओडिशा की जनता राजनेताओं से भी ज्यादा समझदार है। मैं ओडिशा के कुछ लोगों से भी थोड़े दिन पहले बात कर रहा था। क्योंकि मेरे सूरत में ओडिशा के बुहत लोग रहते हैं। आप सूरत में जाएंगे तो हर पांचवां व्यक्ति उड़िया मिलेगा और इतने प्यार से हमारा नाता है सबसे कि मैंने कहा भाई क्या होगा? वहां से क्या खबर आती हैं? बोले साहब हम ओडिशा वाले बहुत समझदार है, और ये इलाका ऐसा है यहां तो प्लम्बिंग के काम में मास्टरी है। देश भर में सारे प्लंबर यहीं से हैं, तो बोले हम मास्टर लोग है कभी हम बड़े पाइप में छोटा पाइप फिट नहीं करते हैं। दोनों पाइप बराबर के फिट करते हैं। मैंने कहा मैं समझा नहीं आप क्या कह रहे हैं? बोले- कुछ लोग कह रहे हैं न कि उपर तो मोदी को देने वाले हैं, लेकिन इनको नीचे चला लेंगे। बोले- ऐसा नहीं होने वाला है। मैंने कहा क्यों? बोले- आपकी गाड़ी में तीन पहिए बड़े हो और एक पहिया स्कूटर का लगा दें तो गाड़ी चलेगी क्या? मैंने कहा नहीं चलेगी। तो वो बोले- हम ओडिशा में ये तीन मोदी टायर लगा लें और चौथा अगर रह गया तो हमारी उड़िया गाड़ी नहीं चलेगी, और इसलिए हमने तय किया है कि चारों पहिए बराबर होंगे, मतलब ऊपर भी भाजपा और नीचे भी भाजपा। साथियो, सरकारें आपने भी पहले भी बहुत देखी है केंद्र में भी और राज्य में भी। लेकिन ये वो सरकार है जिस पर पांच साल में भ्रष्टाचार का एक भी दाग नहीं लगा है, और जो झूठे आरोप लगाने की कोशिश भी कर रहे हैं वो आज खुद कटघरे में खड़े हैं। पहले दो चरण में देश के लोगों ने जिस तरह इन लोगों को सजा दी है। सबक सिखाया है। इसके बाद इन लोगों में ऐसी सदमे जैसी स्थिति है, ऐसे मुरझाए हैं, ऐसे मूर्छित हैं। अब बीच चुनाव में ऐसा क्या नया मुद्दा लाए, जिस पर मोदी को घेर सके, जिसको आधार बनाकर मोदी को गाली दे सके।

साथियो, देश ने पांच साल मेरे काम को देखा है, मेरी सरकार का काम देखा है। आप इतना प्यार कर रहे हो, इतना प्यार कर रहे हो। ये बीजेडी वालों की और माहमिलावट वालों की नींद खराब हो रही है। देश के विकास के लिए 21वीं सदी में देश को एक नई ऊंचाई पर पहुंचाने के लिए देश के मध्यम वर्ग की आकांक्षाओं के लिए, गरीबों, दलितों, शोषितों के कल्याण के लिए, गरीब को सशक्त बनाने के लिए जिस तरह हमने दिन रात काम किया है। उसके गवाह आप भी है। जो विरोधी हैं उनमें सरकार के कार्यों पर सवाल उठाने की चर्चा करने की ताकत नहीं है इसलिए बौखलाहट में मुझे गाली देते रहते हैं। रोज नई गाली देते हैं, भांति-भांति की गाली देते हैं। लेकिन भाइयो–बहनो देश मन बना चुका है। आप लोग मन बना चुके है। दिल्ली में फिर एक बार मोदी सरकार। फिर एक बार मोदी सरकार। साथियो, आज देश मजबूत सरकार के मजबूत नेतृत्व के साथ खड़ा है। ताकी दुनिया में मां भारती का झंडा ऐसे ही बुलंद रहे। साथियो, इसका असर यहीं ओडिशा में भी देख सकते हैं। यहां बीजेडी पूरी तरह से बौखलाई हुई है। यहीं कारण है कि भाजपा के कार्यकर्तोओं पर हमले किए जा रहे हैं। जिस प्रकार से बंगाल की तरह हिंसा का सहारा लिया गया है, और उनके कुछ मुठ्ठी भर अफसरों ने इस खेल को खेलने में आंखों पर पट्टी बांध कर के रखी है। मैं आज जब इस चुनाव में आखिरी दौर पर आया हूं तो मैं उनको कहना चाहता हूं नवीन बाबू आप जा रहे हो। आपका जाना तय है। ये मुठ्ठी भर अफसर आपको नहीं बचा पाएंगे। ओडिशा की जनता घर से मेहमान को हाथ जोड़कर विदाई करती है। लेकिन अब गुस्से के साथ आपको निकालने के मूड में है। अब आपका बचना मुश्किल है, और मैं ओडिशा के समझदार मतदाताओं का अभिनंदन करता हूं कि उन्होंने परिस्थिति को भलिभांति भांप लिया है, और दिल्ली में और भुवनेश्वर में अब डबल इंजन लगाना तय कर लिया है। भाइयो-बहनो, मैं जरा आपसे पूछना चाहूंगा अगर आपको अच्छा लगे कि हां डबल इंजन तो मेरे साथ आपको बोलना होगा डबल इंजन। बोलेंगे, बोलेंग? साथियो, यहां हर कोई कमल छाप डबल इंजन मांग रहा है। मांग रहे हैं न? मांग रहे हैं न ? बीजेडी की विदाई होनी चाहिए कि नहीं चाहिए? दिल्ली में भाजपा की सरकार मजबूत होनी चाहिए कि नहीं होनी चाहिए ? ओडिशा का जय जगन्नाथ दिल्ली में होना चाहिए कि नहीं होना चाहिए?

साथियो, बीजेडी यहां जितनी ताकत लगा लें वो अब ओडिशा में कमल छाप डबल इंजन रोकने से रोक नहीं सकती है। भाइयो-बहनो, यहां का युवा जो पहली बार वोट डाल रहा है, वो अपनी आकांक्षाओं का ओडिशा चाहता है, 21वी सदी का ओडिशा चाहता है। वो अब सवाल पूछ रहा है कि आखिर ऐसा क्यों हुआ कि देश के सबसे समृद्ध राज्य में इतनी गरीबी क्यों है? वो युवा जो करीब करीब उसी समय पैदा हुआ था, जब यहां बीजेडी की सरकार पहली बार बनी थी वो आज जवाब मांग रहा है। वो पूछ रहा है कि एक पूरी की पूरी पीढ़ी बड़ी हो गई, लेकिन फिर भी यहां पलायन क्यों नहीं रुका? क्यों यहां उद्योग नहीं लगे? सिंचाई की सुविधा क्यों नही तैयार हुई? वो जानना चाहता है किसान भाइयो के फसलों को सुरक्षित रखने के लिए कोल्ड स्टोरेज क्यों नहीं बने? उसके मन में सवाल है कि ओडिशा के सबसे पुरानी नगर पालिका होने के बावजूद केंद्रपाड़ा सड़क, शिवर, बिजली, पानी ऐसी मूलभूत समस्याओं के लिए क्यों जूझ रहा है। भाइयो-बहनो, समस्या प्राथमिकताओं की है, यहां की सरकार की प्राथमिकता में विकास नहीं है सिर्फ और सिर्फ सत्ता है। साल दर साल चुनाव होते रहे, आप उन्हें वोट देते रहे। इन लोगों ने मान लिया कि चाहे वो कुछ करें या न करें। ओडिशा का विकास हो या न हो। आप तो उन्हें वोट देते ही रहेंगे। साथियो, ओडिशा में इसलिए बदलाव जरूरी है, आपको सिर्फ सत्ता बदलने के लिए बदलाव करना है ये नहीं है। आपको एक बेहतर विकल्प, अपने बेहतर भविष्य के लिए सोचना है। इसलिए भाजपा को वोट करना है।

भाइयो-बहनो, ओडिशा का बड़ा हिस्सा समुद्री तट से घिरा है, यहां विकास की अनेक संभावना है। उद्योगों की संभावनाएं है। इस पूरे तटीय इलाके को नए भारत का विकास का अहम सेंटर बनाने के लिए हम एक बड़े विजन के साथ काम कर रहे हैं। सागर माला परियोजना के माध्यम से तटीय इलाकों में सड़कों का जाल बिछाया जा रहा है। जो हमारे बंदरगाह है उनको अच्छी सड़कों से, रेलवे नेटवर्क से जोड़ा जा रहा है। इसके अलावा हमने देश के नदी जलमार्गों को भी विकसित करने का बीड़ा उठाया है। यहां भी ब्राह्मणी नदी पर वाटर वे बनाया जा रहा है। ये वाटर वे वाल्टेयर को धामरा और पारादीप बंदरगाह को जोड़ रहा है। इसका एक बड़ा फायदा ये होगा कि वाल्टेयर से निकला कोयला अब कम लागते से पोर्ट तक पहुंच जाएगा। साथियो, हम जिस दिशा की तरफ बढ़ रहे है उसके अनेक फायदे हैं। नदियों के रास्ते माल ढुलाई सड़क और ट्रेन से बहुत सस्ती पड़ती है। पेट्रोल-डीजल बचता है। प्रदूषण भी नहीं होता है। यानी व्यापारियों को कारोबारियों को उद्यामियों को ट्रांसपोर्ट की एक बहुत सस्ती सुविधा मिल जाएगी। यहां के इंफ्रास्ट्रक्चर को मजबूत करने वाले इन कार्यों से ओडिशा के टूरिज्म सेक्टर को भी मदद मिलेगी। अच्छी कनेक्टिविटी का सीधा मतलब है टूरिज्म के लिए अच्छी संभावनाएं। इसके अलावा इनसे किसानों को भी लाभ होगा। समय पर किसान की उपज देश के दूसरे हिस्से तक पहुंच पाती है। साथियो, कोस्टल इकोनॉमिक का एक महत्वपूर्ण अंग है, ब्लू इकॉनमी यानी मछली पालन से जुड़े व्यवसाय उससे जुड़ा पूरा कारोबार मछली पालन को और बढ़ावा देने के लिए अब एक अलग डिपार्टमेंट बनाया जा रहा है। इस डिपार्टमेंट का एक ही काम होगा हर उस चीज पर ध्यान देना जो मछुआरों से जुड़ी हुई है। आपकी समस्याएं आपकी चिंताए दूर करने का काम ये डिपार्टमेंट करेगा। इसके अलावा बड़े ट्रोलर्स के आधुनिकीकरण के लिए मछुआरे साथियो को आर्थिक मदद भी दी जा रही है।

पहली बार मछुआरों को किसान क्रेडिट कार्ड की सुविधा भी दी गई है। ताकी उन्हे पैसे की दिक्कत न आए। साथियो, किसानों के लिए ही एक बहुत बड़ी योजना भी हमने बनाई है। प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि इसके तहत ओडिशा के लाखों किसानों को हर वर्ष सीधे बैंक खाते में पैसा दिया जाना तय हुआ है। लेकिन यहां की सरकार ऐसी विकास विरोधी है किसान विरोधी है कि वो किसानों की सही सूची देने से बच रही है। इसलिए मैं कहता हूं कि ओडिशा सरकार को उसके किए की सजा देने का समय आ गया है। साथियो, 23 मई को आज 23 अप्रैल है। ठीक एक महीने के बाद 23 मई को चुनाव का नतीजा आएगा। 23 मई को जब फिर एक मोदी सरकार। फिर एक बार मोदी सरकार। फिर एक बार मोदी सरकार आएगी। यहां ओडिशा में भी भाजपा सरकार बनेगी तो हम ओडिशा के हर किसान को चाहे वो मछली पालता हो, पशु पालता हो, कोई फसल पैदा करता हो उसके पास चाहे 5 एकड़ से कम जमीन हो या ज्यादा जमीन हो। हर किसान को हम पीएम किसान योजना का फायदा पहुंचाएंगे। हर किसान के बैंक खाते में सीधे पैसे ट्रांसफर करवाएंगे। इतना ही नहीं छोटे किसानों को खेत के हर मजदूरों को छोटे-छोटे दुकानदारों को 60 वर्ष आयु के बाद नियमित पेंशन के लिए भी एक योजना हमारी सरकार शुरू करने जा रही है।

साथियो, हम सबका साथ सबका विकास के मंत्र को लेकर आगे बढ़ रहे हैं। कोई भेदभाव नहीं है, कोई तुष्टिकरण नहीं, कोई सिफारिश, कच्चे-पक्के काम नहीं। जो हो रहा है वो सबके लिए हो रहा है। साथियो, आपने खुद अनुभव किया है कि आज गरीबों को भी अपना पक्का घर मिल रहा है। हमारा संकल्प है कि 2022 तक ओडिशा के हर गरीब के पास अपना पक्का घर हो, इसी तरह ओडिशा के गांव-गांव, घर-घर तक बिजली पहुंचाने का काम किया जा रहा है। कोई भी घर और गांव अंधेरे में न रहे ये हमारा संकल्प है। ओडिशा की हर गरीब बहन को हम गैस का कनेक्शन मुफ्त में पहुचा रहे हैं। साथियो, भाजपा सरकार की जितनी भी योजना है उन सबके केंद्र में बहनें और बेटियां है। स्वच्छ भारत मिशन के तहत शौचालय बनवाने से लेकर उज्जवला योजना के तहत मुफ्त गैस कनेक्शन देने तक हमने आपका जीवन आसान बनाने की कोशिश की है। आपका जीवन आसान बने इसके लिए मेहनत की है। भाइयो-बहनो, बहनों का स्वास्थ्य, बहनों की गरिमा, बहनों की सुरक्षा से कोई समझौता नहीं हो सकता। ओडिशा में जिस तरह बेटियों पर अत्याचार हुए हैं उनको इंसाफ नहीं मिल पाता ये दुर्भाग्यपूर्ण है। भाजपा सरकार आते ही इस स्थिति को बदला जाएगा। अपराधियों पर लगाम लगाई जाएगी। बेटियों की सुरक्षा ये हमारी प्राथमिकता है। हमारी ही सरकार ने बेटियों के साथ जघन्य अपराध करने वालों को बेटियों का बलात्कार करने वालों को फांसी तक का प्रावधान किया है। भाइयो–बहनो, विकास का डबल इंजन जब आप 23 मई को लगाएंगे तब हम ओडिशा में आयुष्मान भारत भी लागू कर पाएंगे। अभी तो नवीन बाबू की सरकार आयुष्मान भारत आपके बीच दीवार बनकर खड़ी है। जनकल्याण विरोधी दीवार ये टूटेगी, तभी यहां के हर गरीब परिवार को ओडिशा सहित पूरे देश के बड़े अस्पतालों में मुफ्त इलाज मिल सकेगा। इसलिए मैं कहता हूं कि राज्य सरकार को बदलना है।

 

 

 

 

 

भाइयो बहनो, केंद्रापड़ा और जगतपुर के एक-एक मतदाता को ध्यान रखना है। जब मतदान होगा तो दो बार कमल के बटन को दबाना है। एक नीचे के लिए भी एक ऊपर के लिए भी। एक मशीन में दिल्ली के लिए कमल दबाना है। दूसरी मशीन में भुवनेश्वर के लिए कमल दबाना है। मैं आपको बताता हूं आपका एक-एक वोट सीधे सीधे मोदी के खाते में जाएगा। भाइयो-बहनो, आप चाहते हैं हिंदुस्तान मजबूत होना चाहिए? पाकिस्तान को सबक सीखाने की ताकत वाला हिंदुस्तान चाहिए? घर में घुसकर के मारने वाला हिंदुस्तान चाहिए? आतंकवाद खत्म होना चाहिए? खत्म होना चाहिए? पूरी तरह खत्म होना चाहिए? मुझे बताइए ये काम कौन कर सकता है ? कौन कर सकता है? ये आतंकवाद को खत्म कौन कर सकता है? आज जितने भी नेताओं के चेहरे आपको दिखता है उसमें से आतंकवाद को खत्म करने की ताकत किसके पास है? आपको भरोसा है। ये चौकीदार पर भरोसा है? तो चौकीदार और मजबूत होना चाहिए कि नहीं होना चाहिए ? चौकीदार और ताकतवर होना चाहिए कि नहीं होना चाहिए ? लेकिन चौकीदार की ताकत क्या है? चौकीदार की ताकत जब सारा हिंदुस्तान चौकीदार बन जाता है। आप मेरे साथ एक संकल्प लेंगे? दोनों हाथ ऊपर कर के लेंगे? मुठ्ठी बंद कर के लेंगे? और आवाज भुवनेश्वर में उनकी नींद हराम कर दें। दिल्ली के लोग वीजा के लिए एप्लीकेशन कर दें। आप ऐसी आवाज लगाइए। आपको बोलना है। चौकीदार, क्या बोलना है चौकीदार, क्या बोलना है... चौकीदार

गांव गांव है...चौकीदार, गांव गांव है...चौकीदार, गांव गांव है....चौकीदार, शहर- शहर है....चौकीदार, शहर-शहर है....चौकीदार, बच्चा-बच्चा....चौकीदार, बडे-बुजुर्ग भी...चौकीदार, माता-बहने....चौकीदार, घर-घर में...चौकीदार, खेत-खलिहान में... चौकीदार, बाग-बगान में....चौकीदार, देश के अंदर....चौकीदार, सरहद पर भी....चौकीदार, डॉक्टर-इंजीनियर...चौकीदार, शिक्षक-प्रोफेसर...चौकीदार, लेखक- पत्रकार...चौकीदार, कलाकार भी....चौकीदार, किसान-कामगार...चौकीदार, दुकानदार भी....चौकीदार, वकील-व्यापारी.....चौकीदार, छात्र-छात्राएं....चौकीदार पूरा हिंदुस्तान...चौकीदार, पूरा हिंदुस्तान....चौकीदार, पूरा हिंदुस्तान....चौकीदार,

भारत माता की जय

ದೇಣಿಗೆ
Explore More
ಚಾಲ್ತಾ ಹೈ' ವರ್ತನೆಯನ್ನು ಬಿಟ್ಟು  ಮತ್ತು ' ಬದಲ್ ಸಕ್ತ ಹೈ'  ಬಗ್ಗೆ ಯೋಚಿಸುವ ಸಮಯವಿದು : ಪ್ರಧಾನಿ ಮೋದಿ

ಜನಪ್ರಿಯ ಭಾಷಣಗಳು

ಚಾಲ್ತಾ ಹೈ' ವರ್ತನೆಯನ್ನು ಬಿಟ್ಟು ಮತ್ತು ' ಬದಲ್ ಸಕ್ತ ಹೈ' ಬಗ್ಗೆ ಯೋಚಿಸುವ ಸಮಯವಿದು : ಪ್ರಧಾನಿ ಮೋದಿ
India Has Incredible Potential In The Health Sector: Bill Gates

Media Coverage

India Has Incredible Potential In The Health Sector: Bill Gates
...

Nm on the go

Always be the first to hear from the PM. Get the App Now!
...
PM congratulates President-elect of Sri Lanka Mr. Gotabaya Rajapaksa over telephone
November 17, 2019
ಶೇರ್
 
Comments

Prime Minister Shri Narendra Modi congratulated President-elect of Sri Lanka Mr. Gotabaya Rajapaksa over telephone on his electoral victory in the Presidential elections held in Sri Lanka yesterday.

Conveying the good wishes on behalf of the people of India and on his own behalf, the Prime Minister expressed confidence that under the able leadership of Mr. Rajapaksa the people of Sri Lanka will progress further on the path of peace and prosperity and fraternal, cultural, historical  and civilisational ties between India and Sri Lanka will be further strengthened. The Prime Minister reiterated India’s commitment to continue to work with the Government of Sri Lanka to these ends.

Mr. Rajapaksa thanked the Prime Minister  for his good wishes. He also expressed his readiness to work with India very closely to ensure development and security.

The Prime Minister extended an invitation to Mr. Rajapaksa to visit India at his early convenience. The invitation was accepted