साझा करें
 
Comments

प्रधानमंत्री श्री नरेन्‍द्र मोदी ने सभी बैंकरों को एक ई-मेल भेजकर उन्‍हें प्रधानमंत्री जनधन योजना की सफलता पर बधाई दी है।

प्रधानमंत्री ने लिखा ‘प्रधानमंत्री जनधन योजना की सफलता सुनिश्‍चित करने में आप सभी लोगों के असाधारण काम को देखकर मुझे अपार प्रसन्‍नता हो रही है। सभी परिवारों के लिए बैंक खातों को खोलने के लिए निर्धारित लक्ष्‍य 26 जनवरी, 2015 से बहुत पहले ही अर्जित कर लिया गया है। बहुत कम समय में जनधन योजना के तहत साढ़े ग्‍यारह करोड़ नए खाते खोल लिये गये हैं और इसके साथ ही हमने देश के सभी परिवारों का बैंक खाता खोलने के लक्ष्‍य का 99.74 प्रतिशत अर्जित कर लिया है। मैं आपको आपके असाधारण प्रयासों के लिए बधाई देता हूं। 



प्रधानमंत्री ने लिखा ‘आपको याद होगा कि जब हमने यह अभियान आरंभ किया था तो कई लोगों के मन में पांच महीनों की सीमित अवधि के भीतर इस कार्य को पूरा करने के बारे में हमारी सामर्थ्‍य पर संशय था। बहरहाल, आपने इन संदेहों को गलत साबित कर दिया है और असंभव को संभव कर दिखाया है। अकेली यही उपलब्‍धि आपको तथा अन्‍य व्‍यक्‍तियों को हमारे सपनों को यथार्थ में बदलने की दिशा में काम करने को प्रेरित कर सकती है। 

प्रधानमंत्री ने भविष्‍य के लिए एक रूपरेखा तैयार करते हुए कहा ‘’अच्‍छी शुरूआत का अर्थ है आधा काम संपन्‍न कर लेना। प्रधानमंत्री जनधन योजना लोगों के आर्थिक हालात को बदलने के लिए एक मंच उपलब्‍ध कराती है। हमें इस सफलता को आधार बनाना है और हमारे नागरिकों को एक विस्‍तृत दायरे में ऋण, बीमा और पेंशन मुहैया कराने के लिए इन खातों का लाभ उठाना है। हमें ग्राहक सेवा के उच्‍च मानदंडों को बनाये रखने की जरूरत है। यह प्रधानमंत्री जनधन योजना का अगला चरण है। 

हमें लोगों को वित्‍तीय जानकारी उपलब्‍ध कराने के प्रयासों को दोगुना करना है। आधार से जुडाव को और बेहतर करने की जरूरत है। बैंक मित्रों को गांवों में ही रूपे कार्ड और आधार सक्षम लेन देन संपन्‍न कराने के लिए समर्थ बनाए जाने की जरूरत है। मैं चाहता हूं कि आप यह सुनिश्चित करने के लिए काम करें कि प्रत्‍येक खाताधारक आधार के लिए नामांकित हो और इसे बैंक खातों के साथ जोड़े। सभी खातों के लिए यह किया जाना है। मुझे भरोसा है कि आप हमें जोड़ने का काम भी उसी उत्‍साह के साथ करेंगे, जिस उत्‍साह का प्रदर्शन आपने बैंक खातों को खोलने के अभियान के दौरान किया था। 

मेरा मानना है कि विकास की अधिकतर गतिविधियां बैक खाता न होने की एक अक्षमता की वजह से बाधित हो गई थी। अब हमने यह अक्षमता पर विजय प्राप्‍त कर ली है। कुछ प्रत्‍यक्ष लाभ हस्‍तांतरण योजनाओं के जरिए लोगों तक इसके लाभ पहुंचने शुरू भी हो गए हैं। यह केवल यही सुनिश्चित नहीं करता कि लाभ सीधे लोगों तक पहुंच सके, बल्‍कि यह आपके खातों का भी अच्‍छी तरह से उपयोग करता है। 

यह राष्‍ट्र निर्माण में आपका बड़ा योगदान है। हम यह सुनिश्चित करेंगे कि और अनेक योजनाएं डीबीटी मंच का उपयोग कर सकें। 

मैं एक बार फिर आपको यह विशाल राष्‍ट्रीय अभियान का हिस्‍सा बनने के लिए धन्‍यवाद देता हूं जिसके जरिए हम भारत के प्रत्‍येक नागरिक को एक बेहतर जीवन स्‍तर अर्जित करने में मदद करने में सक्षम होंगे। 

प्रधानमंत्री मोदी के साथ परीक्षा पे चर्चा
Explore More
'चलता है' नहीं बल्कि बदला है, बदल रहा है, बदल सकता है... हम इस विश्वास और संकल्प के साथ आगे बढ़ें: पीएम मोदी

लोकप्रिय भाषण

'चलता है' नहीं बल्कि बदला है, बदल रहा है, बदल सकता है... हम इस विश्वास और संकल्प के साथ आगे बढ़ें: पीएम मोदी
Railways reaches milestone of carrying 10k tonnes of oxygen on Monday morning: Rly Board chairman

Media Coverage

Railways reaches milestone of carrying 10k tonnes of oxygen on Monday morning: Rly Board chairman
...

Nm on the go

Always be the first to hear from the PM. Get the App Now!
...
PM condoles demise of Former Union Minister Shri Chaman Lal Gupta
May 18, 2021
साझा करें
 
Comments

The Prime Minister, Shri Narendra Modi has expressed grief over the demise of Former Union Minister, Shri Chaman Lal Gupta Ji.

In a tweet, the Prime Minister said, "Shri Chaman Lal Gupta Ji will be remembered for numerous community service efforts. He was a dedicated legislator and strengthened the BJP across Jammu and Kashmir. Pained by his demise. My thoughts are with his family and supporters in this hour of grief. Om Shanti."