साझा करें
 
Comments
विकास के लिए किए जा रहे इन कार्यों का ही प्रभाव है कि अब ज्यादा से ज्यादा नौजवान मुख्यधारा से जुड़ते जा रहे हैं, सरकार की कोशिशों की वजह से ही नक्सली प्रभाव वाले क्षेत्रों का दायरा लगातार कम हो रहा है: प्रधानमंत्री मोदी
कश्मीर की रक्षा के लिए, लाल चौक में तिरंगे झंडे की रक्षा के लिए, डॉ जोशी जी के नेतृत्व में एकता यात्रा जब कालाहांडी पहुंची तब जो आपने स्वागत किया था, जो प्यार और आशीर्वाद दिया था उसे मैं कभी भूल नहीं सकता: पीएम मोदी
यहां की सरकार से सहयोग न मिलने के बावजूद मैंने बहुत ईमानदारी से आपके लिए मेहनत की है, केंद्र सरकार द्वारा चलाई जा रही योजनाओं का लाभ आदिवासी क्षेत्रों में अधिक से अधिक हो, इसका प्रयास इस चौकीदार ने किया है: प्रधानमंत्री

“आपने अपने इस प्रधानसेवक को पांच वर्ष पहले दिल्ली का दायित्व दिया था, सेवा करने का आदेश दिया था। बीते पांच वर्षों में एक भी दिन की छुट्टी लिए बिना, एक शरीर से जितना काम लिया जा सकता है- उसके पल-पल का उपयोग करते हुए मैंने देश की सेवा करने का प्रयास किया है, समस्याओं का समाधान करने का रास्ता खोजा है। बदलाव लाने की दिशा में सफलतापूर्वक हम आगे बढ़े हैं। लेकिन, ये सब इसलिए संभव हुआ, क्योंकि आपने, ओडिशा ने, पूरे हिन्दुस्तान ने मेरा साथ दिया। अगर आपका आशीर्वाद न होता तो मैं ये काम नहीं कर पाता। इसलिए, देश में जो कुछ भी बदलाव आया है, उसका क्रेडिट अगर किसी को जाता है, तो मेरे देश के सभी नागरिक भाई-बहनों को जाता है।”

ओडिशा के कालाहांडी में एक विशाल चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने ये उद्गार व्यक्त किए। देश और ओडिशा के लिए केंद्र सरकार द्वारा किए गए विकास कार्यों की चर्चा करते हुए उन्होंने कहा, “बीते 5 वर्षों में ओडिशा के लगभग 8 लाख परिवारों को घर मिला, 24 लाख घरों को मुफ्त बिजली कनेक्शन दिया गया, 3 हजार गांवों तक पहली बार बिजली पहुंची, उज्ज्वला योजना के जरिए 40 लाख गरीब बहनों को मुफ्त गैस कनेक्शन मिला। आजादी के 70 साल बाद यहां 40 लाख लोगों के बैंक खाते खुले, यहां करीब 50 लाख शौचालयों का निर्माण हुआ- ये सारे काम आपके एक वोट के कारण हुए हैं। आपके एक वोट ने देश का भाग्य बदला है और गरीबों को विश्वास दिया है।“ 

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि उन्होंने विकास की पंचधारा को हर कोने तक पहुंचाने की कोशिश की है। जनजातीय कल्याण के लिए केंद्र सरकार ने इस बार 30 प्रतिशत अधिक राशि का प्रावधान किया है। उन्होंने कहा, “अटल जी की सरकार में पहली बार आदिवासी मंत्रालय बना और मेरी सरकार ने पहली बार मछुआरों के लिए अलग मंत्रालय बनाया। वन-धन योजना के तहत जंगल से आप जो उपज लेते हैं, उसकी बेहतर कीमत आपको मिले, इसके लिए हम काम कर रहे हैं। हमने बांस से जुड़े कानून को बदला, जिससे आप बांस उगाकर पैसे कमा सकते हैं। हमने यह कानून आदिवासी और जंगल में रहने वाले लोगों के लिए पूरी तरह बदल दिया। पहले 10 वन उपजों पर सरकारी एमएसपी मिलता था। हमने इन वन संपदाओं की संख्या बढ़ाकर 50 कर दी। सरकार के प्रयासों से नक्सली प्रभाव वाले क्षेत्रों का दायरा कम होता जा रहा है।” 

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि पीएम किसान योजना के तहत देशभर के 12 करोड़ किसानों को हर साल 75,000 करोड़ रुपये दिए जा रहे हैं। तीन करोड़ किसानों के खातों में योजना की पहली किस्त पहुंच गई है। आयुष्मान योजना से भी बड़ी संख्या में गरीब लोगों को लाभ मिल रहा है। लेकिन, ओडिशा सरकार के असहयोग की वजह से इन दोनों योजनाओं का लाभ ओडिशा के लोगों को नहीं मिल पा रहा है। 

 

प्रधानमंत्री मोदी ने अपने संबोधन के दौरान भगवान जगन्नाथ, भवानी शंकर और मां मणिकेश्वरी देवी का स्मरण किया। उन्होंने कहा, “ओडिशा में 19 साल बाद एक नए सूरज का उदय होने वाला है। 11 अप्रैल को आपको भुवनेश्वर और दिल्ली में विकास के डबल इंजन के लिए वोट डालना है। आपको नए ओडिशा, नए भारत के नए विश्वास के लिए भारी संख्या में वोट करना है।” 

पूरा भाषण पढ़ने के लिए यहां क्लिक कीजिए

20 Pictures Defining 20 Years of Seva Aur Samarpan
मन की बात क्विज
Explore More
हमारे जवान मां भारती के सुरक्षा कवच हैं : नौशेरा में पीएम मोदी

लोकप्रिय भाषण

हमारे जवान मां भारती के सुरक्षा कवच हैं : नौशेरा में पीएम मोदी
India Inc raised $1.34 billion from foreign markets in October: RBI

Media Coverage

India Inc raised $1.34 billion from foreign markets in October: RBI
...

Nm on the go

Always be the first to hear from the PM. Get the App Now!
...
प्रधानमंत्री मोदी के मन की बात कार्यक्रम के लिए भेजें अपने विचार एवं सुझाव
December 03, 2021
साझा करें
 
Comments

प्रधानमंत्री मोदी रविवार 26 दिसंबर को अपने मासिक रेडियो कार्यक्रम ‘मन की बात’ के माध्यम से देश को संबोधित करेगें। इस कार्यक्रम के लिए आप भी अपने विचार एवं सुझाव साझा कर सकते है। पीएम मोदी उनमें से कुछ चयनित विचारों एवं सुझावों को अपने कार्यक्रम में शामिल करेंगे।

नीचे दिए गए कमेंट बॉक्स में अपने विचार एवं सुझाव साझा करें।