साझा करें
 
Comments

प्रधानमंत्री मोदी ने भारत रत्न लता मंगेशकर जी से फोन पर बात की और उनके जन्मदिन पर उन्हें शुभकामनाएं दीं। पीएम मोदी ने अपने मासिक रेडियो कार्यक्रम मन की बात में लता मंगेशकर जी के साथ हुई बातचीत का अंश साझा करते हुए बताया कि उन्होंने लता मंगेशकर जी से आशीर्वाद मांगा।

प्रधानमंत्री ने लता मंगेशकर जी के नम्र स्वभाव का ज़िक्र करते हुए कहा, "दीदी आपकी नम्रता जो है, ये हम नयी पीढ़ी के सबके लिये, ये बहुत बड़ी शिक्षा है, बहुत बड़ा हमारे लिये inspiration है कि आपने जीवन में इतना सब कुछ Clear करने के बाद भी, आपके मात-पिता के संस्कार और उस नम्रता को हमेशा ही प्राथमिकता दी है।"

प्रधानमंत्री मोदी के अभिवादन का जवाब देते हुए लता मंगेशकर जी ने उन्हें धन्यवाद दिया और आशीर्वाद भी दिया। पीएम मोदी के कार्यों की सराहना करते हुए लता जी ने कहा, "जब से देश को आपका नेतृत्व मिला है, तब से भारत की तस्वीर बदलने लगी है। मुझे यह देखकर बहुत खुशी मिलती है।"

प्रधानमंत्री ने लता जी के साथ बिताए पलों को याद करते हुए कहा कि जब भी उन्हें लता दीदी से मिलने का मौका मिला, तो उन्होंने विभिन्न गुजराती व्यंजन खिलाए। प्रधानमंत्री मोदी ने वादा करते हुए कहा कि वह जब भी उनसे मिलेंगे वो फिर से गुजरती खाना खायेंगे।

पीएम मोदी ने कहा कि लता मंगेशकर जी से बातचीत ऐसी थी जैसे एक छोटा भाई अपनी बड़ी बहन से बात करता है।

मोदी जी : लता दीदी, प्रणाम! मैं नरेंद्र मोदी बोल रहा हूँ |

लता जी : प्रणाम,

मोदी जी : मैंने फ़ोन इसलिए किया, क्योंकि, इस बार आपके
जन्मदिन पर....

लता जी : हाँ हाँ

मोदी जी : मैं हवाई जहाज में travelling कर रहा हूँ |

लता जी : अच्छा |

मोदी जी : तो मैंने सोचा जाने से पहले ही

लता जी : हाँ हाँ

मोदी जी : आपको जन्मदिन की बहुत-बहुत शुभकामनाएं, अग्रिम
बधाई दे दूं | आपका स्वास्थ्य अच्छा रहे,आपका आशीर्वाद हम सभी पर बना रहे, बस यही प्रार्थना और आपको प्रणाम करने के लिए मैंने, अमेरिका जाने से पहले ही आपको फ़ोन कर दिया |

लता जी : आपका फ़ोन आयेगा, यह सुन के ही मैं बहुत, ये हो
गयी थी | आप, जा के कब वापस आयेंगे |

मोदी जी : मेरा आना होगा 28 late night और 29 morning और
तब आपका जन्मदिन हो गया होगा |

लता जी : अच्छा, अच्छा | जन्म दिन तो क्या मनायेंगे, और
बस घर में ही सब लोग,

मोदी जी : दीदी देखिये मुझे तो

लता जी : आपका आशीर्वाद मिले तो

मोदी जी : अरे आपका आशीर्वाद हम मांगते हैं, आप तो हमसे बड़े
हैं|

लता जी : उम्र से बड़ा तो बहुत, कुछ लोग होते हैं, पर
अपने काम से जो बड़ा होता है, उसका आशीर्वाद मिलना
बहुत बड़ी चीज होती है |

मोदी जी : दीदी, आप उम्र में भी बड़ी हैं और काम में भी बड़ी हैं
और आपने ये जो सिद्धी पायी है, ये साधना और तपस्या
करके पायी है |

लता जी : जी, मैं तो सोचती हूँ कि मेरे माता-पिता का आशीर्वाद
है, और सुनने वालों का आशीर्वाद है | मैं कुछ नहीं हूँ |

मोदी जी : जी, यही आपकी नम्रता जो है, ये हम नयी पीढ़ी के
सबके लिये, ये बहुत बड़ी शिक्षा है, बहुत बड़ा हमारे
लिये inspiration है कि आपने जीवन में इतना सब कुछ
Clear करने के बाद भी, आपके मात-पिता के संस्कार
और उस नम्रता को हमेशा ही प्राथमिकता दी है |

लता जी : जी |

मोदी जी : और मुझे तो खुशी है कि जब आप गर्व से कहती हो
कि माँ गुजराती थी .....

लता जी : जी |

मोदी जी : और मैं जब भी आपके पास आया

लता जी : जी |

मोदी जी : आपने मुझे कुछ-ना-कुछ गुजराती खिलाया |

लता जी : जी | आप क्या हैं, आपको ख़ुद पता नहीं है |
मैं जानती हूँ कि आपके आने से भारत का चित्र बदल रहा
है और वो, वही मुझे बहुत खुशी होती है | बहुत
अच्छा लगता है |

मोदी जी : बस दीदी, आपके आशीर्वाद बने रहें, पूरे देश पर आपके
आशीर्वाद बने रहे, और, हम जैसे लोग कुछ-ना-कुछ
अच्छा करते रहें, मुझे आपने हमेशा प्रेरणा दी है |
आपकी चिट्ठी भी मुझे मिलती रहती है और आपकी
कुछ-ना-कुछ भेंट-सौगात भी मुझे मिलती रहती है तो ये
एक अपनापन,जो एक, पारिवारिक नाता है उसका एक
विशेष आनंद मुझे होता है |

लता जी : जी, जी | नहीं मैं आपको बहुत तकलीफ नहीं देना
चाहती हूँ, क्योंकि, मैं देख रही हूँ, जानती हूँ, कि आप
कितने busy होते हैं और आपको कितना काम होता है |
क्या-क्या सोचना पड़ता है | जब, आप जा के अपनी
माता जी को पाँव छू के आये, देखा तो मैंने भी किसी
को भेजा था उनके पास और उनका आशर्वाद लिया|

मोदी जी : हाँ ! मेरी माँ को याद था और वो मुझे बता रही थी |

लता जी : जी |

मोदी जी : हाँ |

लता जी : और टेलीफोन पर उन्होंने मुझे आशीर्वाद दिया, तो
मुझे, बहुत अच्छा लगा

मोदी जी : हमारी माँ बहुत प्रसन्न थी, आपके इस प्यार के कारण |

लता जी : जी जी |

मोदी जी : और मैं आपका बहुत आभारी हूँ कि आप हमेशा मेरी
चिंता करती हैं | और फिर एक बार मैं आपको जन्मदिन
की बहुत-बहुत शुभकामनाएं देता हूँ |

लता जी : जी |

मोदी जी : इस बार Mumbai आया तो मन करता था कि
रूबरू आ जाऊं

लता जी : जी, जी जरुर |

मोदी जी : लेकिन समय की इतनी व्यस्तता थी कि मैं आ नहीं पाया

लता जी : जी

मोदी जी : लेकिन मैं बहुत ही जल्द आऊँगा

लता जी : जी |

मोदी जी : और घर आ करके कुछ गुजराती चीजें आपके हाथ से
खाऊंगा |

लता जी : जी जरुर, जरुर, जरुर | ये तो मेरा सौभाग्य होगा |

मोदी जी : प्रणाम, दीदी |

लता जी : प्रणाम |

मोदी जी : बहुत शुभकामनाएं | आपको

लता जी : बहुत-बहुत प्रणाम |

मोदी जी : प्रणाम जी |

दान
Explore More
'चलता है' नहीं बल्कि बदला है, बदल रहा है, बदल सकता है... हम इस विश्वास और संकल्प के साथ आगे बढ़ें: पीएम मोदी

लोकप्रिय भाषण

'चलता है' नहीं बल्कि बदला है, बदल रहा है, बदल सकता है... हम इस विश्वास और संकल्प के साथ आगे बढ़ें: पीएम मोदी
Forex reserves soar $2.3 billion to touch all-time high of $453 billion

Media Coverage

Forex reserves soar $2.3 billion to touch all-time high of $453 billion
...

Nm on the go

Always be the first to hear from the PM. Get the App Now!
...
प्रधानमंत्री मोदी के ‘मन की बात’ कार्यक्रम के लिए भेजें अपने विचार एवं सुझाव
December 14, 2019
साझा करें
 
Comments

प्रधानमंत्री मोदी रविवार 29 दिसम्बर को अपने मासिक रेडियो कार्यक्रम ‘मन की बात’ के माध्यम से देश को संबोधित करेगें। इस कार्यक्रम के लिए आप भी अपने विचार एवं सुझाव साझा कर सकते है। पीएम मोदी उनमें से कुछ चयनित विचारों एवं सुझावों को अपने कार्यक्रम में शामिल करेंगे।

नीचे दिए गए कमेंट बॉक्स में अपने विचार एवं सुझाव साझा करें।