साझा करें
 
Comments

A high profile delegation from Indonesia called on Chief Minister Shri Narendra Modi yesterday on 9th October. They expressed their eagerness to get support from Gujarat Government for development in the field of Agriculture and Biomass Energy. The Governor of Solvici Province Mr. Syawral Yasin Limpo expressed his desire to work jointly with Gujarat Government. The Governor invited Shri Narendra Modi for a visit to Indonesia.

This delegation revived the 900 old business association of Indonesia with Gujarat. The Ambassador Left General Mr. Andi M Ghalib mentioned they were extremely impressed by the achievements of Gujarat state in the fields of Agriculture and Biomass Energy. Chief Minister Shri Narendra Modi accepted the invitation extended by the Indonesian Government and suggested that students from Indonesia should study agricultural practices of Gujarat through student exchange programs. Gujarat State's Agriculture University offers special courses in Agriculture that students of Indonesia can study.

मोदी सरकार के #7YearsOfSeva
Explore More
'चलता है' नहीं बल्कि बदला है, बदल रहा है, बदल सकता है... हम इस विश्वास और संकल्प के साथ आगे बढ़ें: पीएम मोदी

लोकप्रिय भाषण

'चलता है' नहीं बल्कि बदला है, बदल रहा है, बदल सकता है... हम इस विश्वास और संकल्प के साथ आगे बढ़ें: पीएम मोदी
429 Lakh Metric Tonnes of wheat procured at MSP, benefiting about 48.2 Lakh farmers

Media Coverage

429 Lakh Metric Tonnes of wheat procured at MSP, benefiting about 48.2 Lakh farmers
...

Nm on the go

Always be the first to hear from the PM. Get the App Now!
...
प्रधानमंत्री मोदी ने 'कोविड 19 फ्रंटलाइन वर्कर्स के लिए कस्टमाइज्ड क्रैश कोर्स प्रोग्राम' लॉन्च किया
June 18, 2021
साझा करें
 
Comments
कस्टमाइज्ड क्रैश कोर्स प्रोग्राम का लक्ष्य देशभर में एक लाख से अधिक कोविड वॉरियर्स को स्किल और अपस्किल प्रदान करना है : प्रधानमंत्री मोदी
हम देश में 1 लाख फ्रंटलाइन वर्कर्स तैयार करने की दिशा में काम कर रहे हैं: कोविड-19 फ्रंटलाइन वर्कर्स के लिए कस्टमाइज्ड क्रैश कोर्स प्रोग्राम के शुभारंभ पर पीएम मोदी
प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि कोविड 19 फ्रंटलाइन वर्कर्स के लिए कस्टमाइज्ड क्रैश कोर्स प्रोग्राम देश के युवाओं के लिए रोजगार के नए अवसर लाएगा।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से 'कोविड 19 फ्रंटलाइन वर्कर्स के लिए कस्टमाइज्ड क्रैश कोर्स प्रोग्राम' की शुरुआत की। इस अवसर पर पीएम मोदी ने कहा, " हम देश में 1 लाख फ्रंटलाइन वर्कर्स तैयार करने की दिशा में काम कर रहे हैं।" लॉन्च के साथ यह 26 राज्यों में फैले 111 प्रशिक्षण केंद्रों में कार्यक्रम शुरू करेगा।

प्रधानमंत्री ने कहा कि क्रैश कोर्स को राज्यों की आवश्यकता के अनुसार देश के शीर्ष विशेषज्ञों द्वारा डिजाइन किया गया है। यह कार्यक्रम देश के युवाओं के लिए रोजगार के नए अवसर लाएगा।