Stalwarts Say

नागार्जुन अक्किनेनी
नागार्जुन अक्किनेनी

हमें देश को उत्कृष्टता की ओर ले जाने के लिए एक मजबूत, स्पष्ट और फोकस्ड नेता की जरूरत है। जब मैंने हमारे माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की, मैं जानता था कि यही वो एक नेता हैं। इस दिन की बहुत बहुत बधाई!

Share
एस रामदोरई
एस रामदोरई

आपके जन्मदिवस के अवसर पर, मैं आपको अच्छे स्वास्थ्य, खुशियों और भारत के लिए महत्वाकांक्षी भविष्य की आपने कल्पना की है उसकी सफलता के लिए आपको शुभकानाएं देना चाहूंगा। 

आपके नेतृत्व में, भ्रष्टाचार के रोकथाम, इज ऑफ डूइंग बिजनेस और गरीबों के लिए कार्यक्रमों में सुधार की दिशा में व्यापक कदम उठाए गए हैं। एक टेक्नोक्रैट की तरह, सभी कार्यक्रमों में प्रौद्योगिकी के व्यापक लाभ को देखना काफी संतोषजनक है। द्वितीयक और तृतीयक क्षेत्रों के प्रदर्शन को देखकर उद्योग जगत में निश्चित रूप से आशा की किरण जगी है।

जैसे आपने जोर दिया है, हमारे युवाओं को भी खुद के और राष्ट्र के हित के लिए कड़ी मेहनत और प्रतिबद्धता के मूल्य को संवेदनशील बनाने की जरूरत है। शिक्षा और कौशल विकास ही वो माध्यम हैं जिनके जरिए इनको विकसित किया जा सकता है और इसमें योगदान करना मेरे लिए काफी संतोषजनक है।

आपको ढेर सारी शुभकामनाएं

एस रामदोरई

Share
साइना नेहवाल
साइना नेहवाल

भारत में अब तक जितने भी प्रधानमंत्री हुए हैं उनमें से नरेंद्र मोदी सबसे ज्यादा प्यारे और बुद्धिमान राजनेता हैं, मैंने कई बार सोचा कि उन्हें एक सम्मानित उपाधि दूं, लेकिन मैं देखा कि उनमें से अधिकतर ऐसे हैं जो पहले से ही कई अंतरराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त नेताओं को दिए जा चुके हैं। तो मैंने पाया कि मोदी सर उन सारी उपाधियों से ऊपर हैं।

मोदी सर एक अद्भूत व्यक्तित्व हैं, हमेशा मुस्कुराते रहना, सरल, अनन्त शक्तियों से भरे हुए जिन्हें कभी हवाई यात्रा की थकान नहीं होती और वर्तमान और ज्वलंत मुद्दों पर वैश्विक नेताओं से बात करने के लिए सदैव तत्पर रहते हैं।

हम युवा अपने दैनिक जीवन में उनके स्वच्छ भारत, मेक इन इंडिया, आर्थिक सुधारों, गरीबी उन्नमूलन, सभी भारतीय को समान सुविधाएं, जीवन के हर क्षेत्र में सूचना प्रौद्योगिकी का बेहतरीन इस्तेमाल, अंतरराष्ट्रीय गुणों से भरे मानव संसाधनों का प्रोत्साहन और दैनिक जीवन में सफाई जैसे गुणों को अपनाने के लिए उत्सुक हैं। ये पहलु भारत जैसे तेजी से विकसित हो रहे देशों के लिए कोई नई बात नहीं है लेकिन हम अपने जीवन में जागरूकता की कमी की वजह से काफी अनभिज्ञ थे।

हमारे प्रधानमंत्री जनता के बीच काफी लोकप्रिय हैं क्योंकि उनकी किसी कार्य के लिए स्पष्ट मानसिकता, उदाहरण के तौर पर, 'मैं एक खिलाड़ी हूं, लेकिन मैं खेल में उनकी रुचि देखकर चकित हूँ, उन्होंने उन खिलाड़ियों से व्यक्तिगत तौर पर बातचीत कर उनका उत्साहवर्धन जिन्होंने देश का नाम रोशन किया है। और मन की बात कार्यक्रम के दौरान इसकी चर्चा कर उन्होंने लाखों लोगों को खेल से जुड़ने के लिए प्रेरित किया। समस्याओं को दूर करने के लिए उनकी दीर्घकालिक योजना काफी सराहनीय है।'

मैं उस सर्वशक्तिमान से प्रार्थना करती हूं कि वो उनपर अपनी कृपा बनाए रखें और 17 सितम्बर को उनके जन्मदिन की शुभकानाएं देती हूं।

जय हिंद

साइना नेहवाल

बैडमिंटन प्लेयर, भारत

Share
सचिन तेंडुलकर
सचिन तेंडुलकर

श्री नरेंद्र मोदी मेरे लिए एक 'मैन ऑफ एक्शन' के रूप में हैं।

हमारे देश के प्रधानंत्री के तौर पर उन्होंने करोड़ों अपेक्षाओं और आशाओं को अपने ऊपर उठा रखा है।

हालांकि, वह काम के दबाव में भी सहज नजर आते हैं और एकाग्रचित होकर देश में सकारात्मक बदलाव लाने के लिए प्रतिबद्ध हैं।

जब वह गुजरात के मुख्यमंत्री से उस दौरान मुझे कई बार मुलाकात करने का सौभाग्य मिला और मैं उनके सरल स्वभाव से बहुत ज्यादा प्रभावित हुआ। वह समाज के हर तबके के लोगों को शामिल करने और उनकी सोच ज्यादा काम करने के लिए प्रेरित प्रेरित करते हैं। स्वच्छ भारत और सांसद आदर्श ग्राम योजना जैसे उनके कुछ पहल सुधार के क्षेत्रों की पहचान करने की उनकी क्षमता और सकारात्मक बदलाव लाने की उनकी कोशिशों का प्रमाण हैं।

खेल के साथ साथ खिलाड़ियों के लिए उनका समर्थन और प्रोत्साहन उल्लेखनीय है। मुझे रियो आलम्पिक्स में कड़ा प्रदर्शन कर रहे खिलाड़ियों के लिए उनका समर्थन और उत्साहवर्धन याद है। वे अक्सर इस बात का जिक्र करते रहते हैं कि देश के विकास और लाइफस्टाइल से प्रेरित कई तरह की बीमारियों को दूर करने में खेल का योगदान काफी महत्वपूर्ण है।

मुझे विश्वास है कि श्री नरेंद्र मोदी तब तक आराम नहीं करेंगे जब तक स्वच्छ भारत और स्वस्थ भारत का उनका सपना सभी आशंकाओं को दूर करते हुए हकीकत में नहीं बदल जाता।

Share
एन चंद्रबाबू नायडु
एन चंद्रबाबू नायडु

नरेंद्र मोदी ऐसे पहले गैर-कांग्रेसी प्रधानमंत्री हैं जो लोकसभा में पूरी बहुमत के साथ सत्ता में आए। उनको मिला निर्णायक जनादेश कई क्षेत्रों में, युवा जनता की आकांक्षाएं, वह क्षमता जिसे देश महसूस करने के लिए तैयार है, और एक उभरते भारत के प्रति लोगों के संकल्प को प्रदर्शित करता है।

गुजरात में एक दशक से अधिक समय तक उनके नेतृत्व ने देश के सामने विकास के लिए सिंगल-माइंडेड फोकस, नए कार्यों के प्रति उनके झुकाव और आधुनिकीकरण के लिए उनके प्रेरणादायक अभियान का प्रदर्शन किया। वह एक उदाहरण था कि कैसे एक नेता विकास के पथ पर लोगों की यात्रा को प्रभावित कर सकता है।

आज, पूरी दुनिया में मौजूद हमारे लोग भारतीय होने पर गर्व करते हैं। नरेंद्र मोदी के नेतृत्व ने उनके अंदर आशावाद की एक नई भावना पैदा की है। पूरी दुनिया उनकी ओर अब एक अलग नजरिये से देखने लगी है- अब वह दिन दूर नहीं है जब गरीबी में डूबे सपेरों के देश के बजाय दुनिया हम लोगों को डिजिटल वर्ल्ड के लीडर के रूप में जानेगी और चौथे औद्योगिक क्रांति की ओर आकर्षित होगी।

भारत अब बड़े परिवर्तन की राह पर आगे बढ़ चुका है। शायद यह इकलौती अर्थव्यवस्था है जिसके अंदर दो अंको में विकास करने की क्षमता है। देश में बड़े पैमाने पर जनसांख्यिकीय लाभांश का आनंद ले रहा है।

मुझे यकीन है कि श्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में आने वाले सालों में महाशक्ति के रूप में उभरने के लिए सही नीति मिश्रण और देश के लिए ठोस नींव रखने जैसे फायदों का सही लाभ उठाना होगा।

Share
सलीम खान
सलीम खान

नरेंद्र भाई आपको जन्मदिन की बहुत बहुत शुभकामनाएं। ईश्वर आपको साहस, शक्ति और ऐसा दैवीय ज्ञान दे कि आप नैतिक रूप से और मानवीय रूप से सही निर्णय ले सकें, न कि राजनीति के हिसाब से सुविधाजनक निर्णय।

प्रेम से बड़ी कोई शक्ति नहीं।

सत्य से बड़ा कोई धर्म नहीं।

भगवान की आप पर कृपा हो।

सलीम खान

आपका मित्र और देशवासी

Share
आनंद जी. महिद्रा
आनंद जी. महिद्रा

एक दशक से अधिक पहले प्रधानमंत्री मोदी, जो उस समय गुजरात के मुख्यमंत्री थे, वो मुंबई आए और स्थानीय कारोबारियों को अपने राज्य में निवेश करने के लिए और वाइब्रेंट गुजरात समिट के उद्घाटन में शामिल होने के लिए आमंत्रित कर हेतु उनसे मिले।

बैठक के दौरान एक पावरप्वाइंट प्रेजेंटेशन के जरिए राज्य सरकार की प्रगतिशील पहलों और बिजली कंपनियों में सुधार, बुनियादी ढांचे के निर्माण तथा औद्योगिक वृद्धि को बढ़ावा देने की उपलब्धियों को दर्शाया गया।

लेकिन मुझे अच्छी तरह याद है कि प्रेजेंटेशन की पहली कुछ स्लाइड्स सामाजिक सूचकांकों में प्रगति के बारे में थीं। जैसे बाल मृत्यु दर और कन्या भ्रूण हत्या की घटनाओं में कमी और बेटियों के शिक्षा स्तर में बढ़ोतरी।

मुझे याद है कि उस समय मैंने सोचा कि “ये आदमी अलग है...”

समय बीतने के साथ ही प्रधानमंत्री मोदी ने वास्तव में साबित किया कि वो अलग किस्म के व्यक्ति हैं। वो एक ऐसे व्यक्ति हैं जो जल्दी से जल्दी भारत को बदलना चाहते हैं, लेकिन साथ ही वो प्राथमिकताओं के सही क्रम और बदलाव की सही गति को भी स्वीकार करते हैं।

प्रधानमंत्री के रूप में अपनी भूमिका में वो ‘JAM’ पहल के जरिए दुनिया के सबसे बड़े सामाजिक प्रयोग की अगुवाई कर रहे हैं। इसके विशाल स्तर, साहसिक लक्ष्य, तकनीक के उपयोग और डिजिटलाइजेशन को देखा जाए, तो ये बात साफ है। इस प्रक्रिया के एक हिस्से के रूप में बहुत बड़ी नीतिगत सफाई की कोशिश शामिल है। उदाहरण के तौर पर 1.6 करोड़ फर्जी राशन कार्ड और 3.5 लाख फर्जी एलपीजी कनेक्शन की सफाई। और उन्होंने सोशल मीडिया के सक्रिय इस्तेमाल से शिकायतों के जल्द निपटारे पर जोर देकर रचनात्मक ढंग से सरकारी चलन को बाधित किया है।

इसलिए जब विदेश में पत्रकार मुझसे पूछते हैं कि क्या मैं भारत में नीतिगत बदलावों को पर्याप्त मानता हूं, तो मेरा जवाब होता है कि आप सभी भारी-भरकम सुधारों को लेकर हल्ला मचा रहे हैं, लेकिन आपको घर में चल रही सफाई नहीं दिखाई देती और जिससे आखिरकार ना सिर्फ आर्थिक विकास के हित में होगा, बल्कि इससे आम आदमी के जीवन में गुणात्मक सुधार को भी बढ़ावा मिलेगा।

ऐसे में उनके 66वें जन्मदिन पर, मैं प्रधानमंत्री मोदी के लिए अपार खुशी और स्वास्थ्य की कामना करता हूं। उनकी जोरदार ऊर्जा बरकरार रहे, उनके अथक प्रयास भारत को आखिरकार उसकी सच्ची क्षमता तक पहुंचाने में सक्षम हों।

Share
एशले जे टेलिस
एशले जे टेलिस

आज भारत को सपने देखने वालों से ज्यादा जरूरत करने वालों की है। आजादी के करीब 70 साल बाद भी भारत के लोगों के वो सपने अब तक पूरे नहीं पाएं हैं जो उन्होंने देखे थे। दशकों से भारतीय नेताओं ने दोषपूर्ण आर्थिक विकल्पों का चुनाव कर देश में गरीबों की संख्या को बढ़ा दिया है। अन्य राजनेताओं से अलग, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस व्यक्तिगत अनुभवों से इस वास्तविकता को समझा है।

और बीते दो साल के कार्यकाल में, उन्होंने सबसे कमजोर तबके के साथ साथ अपने महान देश की तकदीर बदलने के स्थायी समाधान के लिए अपने दृढ़ संकल्प का प्रदर्शन किया है। मैं प्रधानमंत्री को जन्मदिन की ढ़ेर सारी शुभकामनाएं देती हूं और मैं भारत के सभी दोस्तों के साथ इस बात की आशा करती हूं कि उन्होंने बदलाव के लिए जो उन्होंने बड़े काम करने का बीड़ा उठाया है वो जल्दी और सफलतापूर्वक पूरा हो जाये। 

एशले जे टेलिस

सिनियर एसोसिएट

कार्नेगी इनडॉवमेंट फॉर इंटरनेशनल पीस

Share